1 January 2022 New Rules: नये साल के पहले दिन से ही बैंकों के नियमों (Banks New Rules) में बदलाव आएगा और अब आपको अपने पैसे निकालने के लिए बैंक के एटीएम (ATM) का इस्तेमाल करना महंगा पड़ सकता है. पहली जनवरी से बैंक एटीएम से ट्रांजेक्शन (ATM transaction) के नियमों में बदलाव करने वाले हैं. जिसमें ट्रांजेक्शन की बढ़ी हुई फीस भी शामिल है. दरअसल रिजर्व बैंक (Reserve bank of india)ने  पहली जनवरी से फ्री लिमिट के बाद एटीएम ट्रांजेक्शन पर फीस बढ़ाने को मंजूरी दे दी है. जिसके बाद बैंक एटीएम से फ्री लिमिट के बाद किये जाने वाले ट्रांजेक्शन को पहली जनवरी से महंगा कर देंगे और आपको फीस चुकानी होगी.Also Read - New Year 2022: नए साल में 1 जनवरी से ATM से 5 बार से ज्यादा कैश निकालने पर लगेगी अधिक फीस

नये साल में बढ़ जाएगी ATM Transaction Fees
RBI ने बैंकों को 1 जनवरी, 2022 से फ्री मंथली लिमिट के बाद कैश और नॉन-कैश ATM लेनदेन पर लागू शुल्क में बढोतरी करने की मंजूरी दे दी है. RBI के निर्देशों के अनुसार ही, एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को SMS भेजकर यह बताना शुरू कर दिया है कि एक्सिस बैंक या अन्य बैंक के ATM से तय फ्री लिमिट के बाद किए जाने वाले लेनदेन पर एक जनवरी, 2022 से 21 रूपए का शुल्क और जीएसटी देना होगा. पहले यह शुल्क 20 रूपए था. Also Read - ATM Rules To Change From January 1, 2022: 1 जनवरी 2022 से बदल जाएंगे ATM से पैसे के निकासी के नियम, जानें- कितना देना होगा शुल्क?

जानिए क्यों बढ़ाई गयी ATM Transaction Fees Also Read - Big Banking Alert: 1 जनवरी से बढ़ जाएगी ATM निकासी फीस, जानें क्या होंगी नई दरें

आखिर ATM Transaction Fees के रूप में  मूल्यवृद्धि क्यों की जा रही है. इसे ऐसे समझिए-इस साल एक अगस्त, 2021 से RBI ने बैंकों को वित्तीय ट्राजेक्शन के लिए प्रति लेनदेन इंटरचेंज शुल्क को 15 रूपए से बढ़ाकर 17 रूपए और गैर-वित्तीय ट्रांजेक्शन के लिए प्रति लेनदेन शुल्क 5 रूपए से बढाकर 6 रूपए कर दिया है. RBI ने उच्च इंटरचेंज शुल्क और परिचालन लागत में वृद्धि होने के चलते बैंकों को उपभोक्ताओं से प्रति लेनदेन 21 रूपए का शुल्क वसूलने की मंजूरी दी है. इसी वजह से बैंकों ने फीस में बढ़ोतरी की है.

इससे आपकी जेब पर क्या होगा असर, जानिए

भले ही बैंकों ने एटीएम ट्रांजेक्शन फीस बढ़ाने का फैसला किया हो लेकिन आम उपभोक्ताओं को इस कदम से खास परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये कदम फ्री लिमिट से ज्यादा ट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहकों पर ही असर डालेगा. बैंक अपने ग्राहकों को ATM से एक माह में पांच मुफ्त लेनदेन, जिसमें वित्तीय और गैर-वित्तीय दोनों शामिल हैं, की सुविधा आगे भी जारी रखेंगे.

इसके अलावा महानगरों में रहने वाले बैंक उपभोक्ताओं को अन्य बैंक के ATM से माह में तीन फ्री और छोटे नगरों में 5 फ्री लेनदेन करने की सुविधा भी जारी रहेगी…यानि की सीमित ट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहकों पर नये फैसले का असर नहीं होगा.