काठमांडू: नेपाली चाय को आखिरकार अंतर्राष्ट्रीय ट्रेडमार्क प्राप्त हो गया है, जिसके लिए देश डेढ़ सदी से प्रयास कर रहा था. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी. कृषि मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय चाय और कॉफी बोर्ड के मुताबिक, उद्योग विभाग द्वारा पंजीकृत ब्रांड को लोगो का समर्थन मिला है.

नेपाल चाय और कॉफी विकास बोर्ड के कार्यकारी निदेशक शेषकांत गौतम ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, “नेपाली चाय उत्पादक संबंधित कंपनियों के नाम या लोगो के साथ चाय का निर्यात करते रहे हैं. अब वे अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में एक समान लोगो का इस्तेमाल कर चाय बेच सकेंगे, जो राष्ट्रीय पहचान का प्रतिनिधित्व करेगा.”

इस ट्रेडमार्क में पहाड़ों की तस्वीर है जिसके नीचे ‘नेपाल चाय: हिमालय से मिली गुणवत्ता’ लिखा है. गौतम ने कहा कि इस लोगो को आधिकारिक रूप से नेपाल में अगले महीने होनेवाले अंतर्राष्ट्रीय चाय महोत्सव में लांच किया जाएगा.

नेपाली ऑर्थोडोक्स टी सर्टिफिकेशन ट्रेडमार्क इंप्लीमेंटेशन डायरेक्टिव की मंजूरी के साथ ही बोर्ड ने निर्माताओं, प्रोसेसर्स, पैकेजर्स और व्यापारियों को इस लोगो का प्रयोग करने को कहा है.

राष्ट्रीय चाय और कॉफी विकास बोर्ड के मुताबिक, नेपाल में 44 जिलों में 27,688 हेक्टेयर जमीन पर चाय का उत्पादन किया जाता है, जिसमें इलम, झापा, धानकुट, तेहतथम और पंचथर जिले शामिल हैं. नेपाल 8 देशों को चाय का निर्यात करता है, जिसमें भारत, कनाडा, जर्मनी, अमेरिका और चीन शामिल है.