7th Pay Commission: लंबे अरसे से महंगाई भत्ते (DA) में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों को हाल ही में सरकार ने राहत देते उनके बकाया महंगाई भत्ते को बढ़ाने का फैसला किया. लेकिन, रेलवे और सशस्त्र बलों के कर्मचारियों को अभी इसके लिए थोड़ा और इंतजार करना होगा. वास्तव में, उनके लिए संबंधित मंत्रालयों द्वारा इस मसले पर अलग से आदेश जारी किए जाएंगे. इसी के बाद उन्हें बढ़े हुए महंगाई भत्ते का लाभ मिल पाएगा.Also Read - 7th Pay Commission Latest News: इस राज्य में 11.25 फीसदी बढ़ा महंगाई भत्ता, अब 21.20% मिलेगा DA

अपने ताजा आदेश में वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग (DOE) ने कहा कि संशोधित वेतन संरचना में ‘मूल वेतन’ शब्द का अर्थ होगा “पे मैट्रिक्स में निर्धारित स्तर पर आहरित वेतन” यानी सरकार द्वारा स्वीकृत 7वें वेतन आयोग सिफारिशें. हालांकि इसमें किसी अन्य प्रकार का वेतन जैसे विशेष वेतन आदि शामिल नहीं है. सशस्त्र बलों के कर्मियों और रेलवे कर्मचारियों के संबंध में रक्षा मंत्रालय और रेल मंत्रालय द्वारा अलग-अलग आदेश जारी किए जाएंगे.” Also Read - Haryana News: कर्मचारियों को हरियाणा सरकार का तोहफा, 11 फीसदी बढ़ाया महंगाई भत्ता

डीओई ने इस सिलसिले में एक ज्ञापन भी जारी किया और कहा कि डीए “पारिश्रमिक का एक विशिष्ट तत्व” बना रहेगा और इसे एफटी 9 (21) के दायरे में वेतन के रूप में नहीं माना जाएगा. इसके अलावा डीए के भुगतान में 50 पैसे और उससे अधिक के अंश शामिल हैं, इसे अगले उच्चतर रुपये में शामिल किया जाएगा. Also Read - 7th Pay Commission: अब इस विभाग के कर्मचारियों के लिए आई अच्छी खबर, केंद्र ने दी हरी झंडी, अगस्त में होगा दोहरा लाभ

बता दें, वित्त मंत्रालय ने 1 जुलाई 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए महंगाई भत्ता 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी लागू करने का आदेश जारी किया है. इस वृद्धि में 1 जनवरी 2020 से 1 जुलाई 2020 तक की अतिरिक्त किस्तों को शामिल कर लिया गया है. इसके पहले महंगाई भत्ता 17 फीसदी की दर से दिया जा रहा था.

गौरतलब है कि महंगाई भत्ते के अलावा सरकार ने हाउस रेंट अलाउंस (HRA) को भी बढ़ाकर 27 फीसदी तक कर दिया है. डिपार्टमेंट ऑफ एक्सपेंडिचर ने 7 जुलाई 2017 को एक आदेश जारी किया था, जिसमें कहा गया था कि जब डियरनेस अलाउंस 25 फीसदी को पार करेगा तो हाउस रेंट अलाउंस को रिवाइज किया जाएगा. 1 जुलाई से डियरनेस अलाउंस बढ़कर 28 फीसदी हो चुका है जिसके कारण हाउस रेंट अलाउंस भी रिवाइज किया गया है.