नई दिल्ली: देश में कोरोना महामारी के बाद से अर्थव्यवस्था पर इसका असर देखने को मिलने लगा था. इसके बाद देश में लॉकडाउन ने आर्थिक हालत को बिगाड़ कर रख दिया था. इस बीच सरकार के तरफ से लोगों को आर्थिक राहत देने के मद्देनजर कई ऐलान भी किए गए. कहीं छूट दी गई तो कहीं आधार और पैन को लिंक (Aadhar PAN Linking) करने की समय सीमा को बढ़ा दिया गया. ऐसे ही कई तरीकों से सरकार ने कई बदलाव किए. कोरोना महामारी के बाद लागू लॉकडाउन के मद्देनजर ITR की समय सीमा में भी बदलाव किया गया. लेकिन जून का महीना अब खत्म होने वाला है. ऐसे में 30 जून से पहले आपको कुछ महत्वपूर्ण काम हैं जिन्हें निपटाना होगा. वरना आपको दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.Also Read - Income Tax Saver Insurance Policy: इस खास पॉलिसी पर 1.5 लाख रुपये की टैक्स छूट, चेक करें डिटेल्स

पैन कार्ड और आधार कार्ड लिंक करना (Aadhar Card And PAN Card Linking) Also Read - ITR filing date extended: इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख फिर बढ़ी, जानें नई डेट

आपके पास अगर पैन कार्ड है तो आप 30 जून से पहले आधार से पैन को लिंक कर लें. ऐसा अगर आपने 30 जून तक नहीं किया तो आपके पैन कार्ड को रद्द कर दिया जाएगा. 30 जून सरकार द्वारा बढ़ाई गई समयसीमा है. Also Read - Income Tax Return: IT विभाग ने करदाताओं के खाते में जमा किए 1.50 लाख करोड़ रुपये, चेक करें स्टेटस

टैक्स में पाना है छूट तो करें निवेश

वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ITR फाइल करने की तारीख को 31 जुलाई से बढ़ाकर 39 नवंबर तक कर दिया गया है. वहीं टैक्स की बचत के लिए आयकर कानून की धाराओं के तहत निवेश करने की समय सीमा को बढ़ा दिया गया है.

PPF और सुकन्या समृद्धि योजना

क्या आपका पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि योजना 31 मार्च 2020 तक मेच्योर हो चुका है. क्या आप अब भी इसे आगे जारी रखना चाहते हैं तो आपके पास 30 जून तक का समय है. इस बाबत आपको डाक विभाग द्वारा 11 अप्रैल को जारी किए गए सर्कुलर को पढ़ना चाहिए. इस नोटिफिकेशन के मुताबिक पीपीएफ और सुकन्या समृद्धि योजना के अकाउंट को आगे जारी रखने की तारीख व इसके लिए फॉर्म जमा करने की तारीख 30 जून तक है.

फॉर्म 16 से जुड़े काम

टैक्स पेयर्स को इस बात का पता होता है कि आखिर फॉर्म 16 क्या होता है. अगर आप भी जानना चाहते हैं तो बता दें कि फॉर्म 16 एक तरह की TDS सर्टिफिकेट होता है. इसकी जरूरत आपको टैक्स रिटर्न दाखिल करने के समय होती है. वैसे तो फॉर्म 16 कर्मचारियों को कंपनी की तरफ से मई महीने में ही मिला जाता था. लेकिन सरकार द्वारा अब इसमें बदलाव किया गया. अब फॉर्म 16 15 जून से 30 जून के बीच जारी की गई है.

बैंक अकाउंट में मिनिमम बैलेंस

लॉकडाउन व देश में आर्थिक हालत के बिगड़ने के बाद सरकार की तरफ से बैंक अकाउंट में मिनमम बैलेंस रखने में 30 जून तक छूट दी गई थी लेकिन 30 जून के बाद अगर आपके सेविंग अकाउंट से मिनिमम बैलैंस नहीं होगा तो आपको चार्ज देना होगा. इसलिए अब अपने सेविंग अकाउंट को आप मेंटेन करना शुरू कर दें.