Afghanistan GDP: संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) ने अनुमान लगाया है कि अफगानिस्तान का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) एक साल के भीतर 20 अरब डॉलर से घटकर 16 अरब डॉलर हो जाएंगे, जो 20 फीसदी कम है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, एजेंसी ने अफगानिस्तान के लिए अपने सामाजिक-आर्थिक आउटलुक में चेतावनी दी है कि एशिया के सबसे गरीब देश के लिए आर्थिक आधार लंबे समय से बहुत छोटा है, जिसकी आबादी 40 मिलियन है.Also Read - India ने Pakistan को फिर जमकर लगाई लताड़, कहा-ओसामा बिन लादेन भी तो पाक में ही मिला था, देखें VIDEO

यूएनडीपी के प्रशासक अचिम स्टेनर ने कहा, “अफगानिस्तान पर इस नए सामाजिक-आर्थिक आकलन का अनुमान है कि महिलाओं को काम करने से प्रतिबंधित करने से 1 अरब डॉलर या देश के सकल घरेलू उत्पाद का 5 प्रतिशत तक का तत्काल आर्थिक नुकसान हो सकता है.” Also Read - Afghanistan पर काबिज होने के बाद तालिबान की यूरोप में कई देशों के साथ राजनयिकों से पहली मीटिंग

संयुक्त राष्ट्र के निकाय ने यह भी चेतावनी दी कि देश की मानव पूंजी, लड़कियों की शिक्षा के आधे हिस्से में निवेश करने में विफल रहने पर आने वाले वर्षों में गंभीर सामाजिक-आर्थिक परिणाम होंगे. Also Read - T20 World Cup 2022 Full schedule: फिर होगी भारत-पाकिस्तान के बीच 'हाई वोल्टेज भिड़ंत', यहां जानिए पूरा शेड्यूल

यूएनडीपी और स्वतंत्र अर्थशास्त्रियों ने संकेत दिया कि गिरती आय और बढ़ती आबादी के साथ, अत्यधिक गरीबी में सभी लोगों की आय को गरीबी रेखा तक उठाने में 2 बिलियन डॉलर लग सकते हैं.

(With IANS Inputs)