नई दिल्‍ली: पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) में 11 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के घोटाले का शोर अभी थमा नहीं है. इस बीच बैंकिग सेक्टर से एक और घोटाले की खबर है. हालांकि इस बार घोटाला किसी सरकारी बैंक में नहीं बल्की प्राइवेट बैंक में सामने आया है. सिटी यूनियन बैंक की ओर से बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दी गई फाइलिंग के मुताबिक, उसे 12.8 करोड़ का नुकसान हुआ है. इस रकम के लिए तीन ट्रांजैक्शन का हवाला दिया गया है. Also Read - PNB घोटाले के आरोपी नीरव मोदी के खिलाफ ब्रिटेन में कॉन्फ्रेंस के जरिए शुरू होगी प्रत्यर्पण की सुनवाई

Also Read - 11 मई तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया भगोड़ा नीरव मोदी, 14 हजार करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी का है मामला

पंजाब नेशनल बैंक की तरह सिटी यूनियन बैंक के खातों में भी इन ट्रांजैक्शन की कोई एंट्री नहीं मिली हैं. हालांकि, बैंक से SWIFT फाइनेंशि‍यल सि‍स्‍टम के जरिए रुपयों के ट्रांसफर का मैसेज बढ़ाया गया है. बैंक ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि 7 फरवरी को बैंक की जांच में पता चला कि स्‍विफ्ट सिस्‍टम से तीन फर्जी रेमि‍टेंस हुए थे. हालांकि, यह कोई भी बैंक की तरफ से नहीं किए गए. बैंक ने तत्‍काल इसकी सूचना संबंधि‍त बैंकों को दी और फंड वापस के लिए रिक्वेस्ट जेनरेट की है. Also Read - मारुति के पूर्व प्रबंध निदेशक खट्टर के खिलाफ 110 करोड़ रुपए के बैंक लोन में फ्रॉड का केस दर्ज

ये भी पढ़ेंः PNB घोटालाः नीरव मोदी का पासपोर्ट सस्पेंड, 50 कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई

बैंक के मुताबिक, इन तीन रेमिटेंस में से एक न्‍यूयॉर्क के स्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक के माध्‍यम से दुबई के बैंक में भेजा गया. यह ट्रांजैक्शन कुल 5 लाख डॉलर की थी. इसे ब्‍लॉक करने के बाद पैसा सि‍टी यूनि‍यन बैंक ने तुरंत वापस ले लि‍या. बैंक के मुताबिक, रकम को दूसरे बैंकों की तरफ से ट्रांसफर की गई थी, जबकि सिटी यूनियन बैंक ने इसके लिए कोई रिक्वेस्ट जेनरेट ही नहीं की थी.

स्विफ्ट के जरिए दूसरा ट्रांसफर 3 लाख यूरो का था, जिसे फ्रैंकफर्ट के स्‍टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक से तुर्की के अकाउंट में भेजा गया था. तीसरी ट्रांजैक्शन 10 लाख डॉलर की थी जिसे न्‍यूयॉर्क के बैंक ऑफ अमेरि‍का के अकाउंट से चीन के बैंक में ट्रांसफर किया गया.

ये भी पढ़ेंः PNB घोटालाः कई भारतीय बैंकों की विदेशी शाखाएं भी साजिश में शामिल

बैंक ने इस धोखाधड़ी की जानकारी वित्त मंत्रालय और विदेश मंत्रालय को दी है. तुर्की और चीन के अधि‍कारि‍यों के साथ मिलकर इस फ्रॉड को पकड़ने की कोशिश की जा रही है. हालांकि, बैंक में हुए इस घोटाले ने स्विफ्ट नेटवर्क की सुरक्षा को लेकर सवालि‍या नि‍शान लगा दि‍ए हैं.

क्‍या होता है SWIFT

स्‍विफ्ट के मतलब है सोसायटी फॉर वर्ल्डवाइड इंटरबैंक फाइनेंशियल टेलिकॉम्युनिकेशन. स्विफ्ट एक तरह का संदेश भेजने और प्राप्‍त करने का नेटवर्क है. इ‍सका इस्‍तेमाल दुनि‍याभर के बैंक और फाइनेंशि‍यल सेवाएं देने वाली संस्‍थाएंकरती हैं. स्विफ्ट के जरिए पेमेंट बहुत तेजी से होता है. हर बैंक को एक स्विफ्ट कोड दिया जाता. यह कोड ही बैंक की पहचान होता है.