Mukesh Ambani News: बाजार पूंजीकरण के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के शेयरों में जोरदार गिरावट देखी गई है. कंपनी के शेयर में करीब छह फीसदी की गिरावट आई, जिसकी वजह से सिर्फ एक घंटे में रिलायंस की बाजार हैसियत 70 हजार करोड़ रुपये घटकर 12.84 लाख करोड़ रुपये हो गई है.इससे पहले जुलाई में एक दिन में कंपनी का शेयर 6.2 फीसदी टूटकर 1798 रुपये पर आ गया था. Also Read - केंद्र सरकार ने गैस बेचने की दी छूट, रिलायंस इंडस्ट्रीज जैसी कंपनियों को होगा बड़ा फायदा

शेयर गिरने से विश्व के शीर्ष 10 अमीरों की सूची में भारत के सबसे बड़े धनकुबेर मुकेश अंबानी दो पायदान लुढ़ककर सातवें स्थान पर आ गए हैं, जबकि शुक्रवार को वह पांचवें स्थान पर थे. अब मुकेश अंबानी को एलन मस्क और वॉरेन बफेट ने पीछे छोड़ दिया है. Also Read - जियो ने विकसित की ‘स्वदेश निर्मित’ 5जी प्रणाली, देश को ‘2जी-मुक्त’ बनाने का लक्ष्य

रिलायंस के शेयरों में गिरावट का असर आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी के नेटवर्थ पर पड़ा है. फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर लिस्ट के मुताबिक सोमवार को मुकेश अंबानी के नेटवर्थ में करीब चार अरब डॉलर की कमी आई.अब उनकी संपत्ति 74.2 अरब डॉलर रह गई है. Also Read - कर्जमुक्‍त हुई रिलायंस इंडस्ट्रीज, मुकेश अंबानी ने 9 माह पहले ही शेयरधारकों से पूरा किया वादा

फोर्ब्स रियल टाइम बिलेनियर लिस्ट से प्रतिदिन पब्लिक होल्डिंग्स में होने वाले उतार-चढ़ाव के बारे में जानकारी मिलती है. जब दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में शेयर बाजार खुलता है, तो हर पांच मिनट में यह इंडेक्स अपडेट होता है. लेकिन जिन व्यक्तियों की संपत्ति किसी निजी कंपनी से संबंधित है, उनकी संपत्ति दिन में एक बार ही अपडेट होती है.

गौरतलब है कि रिलायंस ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए हैं. 30 सितंबर 2020 को समाप्त दूसरी तिमाही में रिलायंस ने 9,567 करोड़ रुपये का समेकित शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 15.05 फीसदी कम है. तब यह आंकड़ा 11,262 करोड़ रुपये था. कंपनी की आय 2020-21 की दूसरी तिमाही में घटकर 1.2 लाख करोड़ रुपये रही, जो एक साल पहले 2019-20 की समान तिमाही में 1.56 लाख करोड़ रुपये थी.