मोदी सरकार ने EPF पर टैक्स लगाने वाली बात पर लिया है यू-टर्न। जी हां, EPF पर टैक्स लगाने पर मिल रहे विपक्ष से विरोध पर मोदी सरकार को अपना फैसला बदलने मजबूर होना ही पड़ा। भारत के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को संसद में बताया की वह EPF पर लगने वाली टैक्स की बात पर पुनर विचार करेंगे और इसे संसद में रिव्यु करेंगे।

आपको बता दें की 29 फ़रवरी कोमोदी सरकार द्वारा अरुण जेटली ने जो बजट पेश किया था। उस बजट में EPF पर लगने वाले टैक्स के बारे में कहा गया था। इस मुद्दे को लेकर सोमवार को ही मोदी सरकार ने अपनी तरफ से इस घोषणा में बदलाव की बात की है। आपको बता दें की इस फैसले के विरोध में कांग्रेस ने इस सोमवार को दिल्ली के जंतर-मंतर जा कर अपना प्रदर्शन किया था। यह भी पढ़ें: आम बजट : अरुण जेटली ने दिखाई फैशन समझ

आपको बता दें की जिस दिन से EPF पर टैक्स लगाने की बात की गयी थी उस दिन से इसका सभी जगह विरोध किया जा रहा था। EPF पर कुछ इस तरह से टैक्स लगाने की थी तयारी। सरकार के हिसाब से EPF के 60 फीसदी हिस्से पर और उससे आने वाले इंट्रेस्ट पर सरकार टैक्स लगाने की तैयारी में थी। पिछले दिनों सरकार के तरफ से कोई साफ़ फैसला ना मिलने से देश में काफी चिंता का माहौल बना हुआ था। मगर आज इस फैसले पर पुनर विचार के सुझाव ने सभी को रहत दी है।