BUDGET 2020: केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शनिवार को संसद में आम बजट पेश होने के बाद कहा कि बजट में स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय का खास ध्यान रखा गया है. चौबे ने बजट को देश को मजबूत बनाने वाला और विश्व में भारत को आर्थिक रूप से महाशक्ति बनाने वाले करार दिया है. Also Read - EPFO Subscribers की Income पर लग सकता है बट्टा, सेंट्रल बोर्ड की बैठक में ब्याज दरों में कटौती पर फैसला संभव

चौबे ने कहा, “वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पेश बजट भारत को विश्व में आर्थिक महाशक्ति के रूप में स्थापित करने में अहम भूमिका निभाएगा. मौजूदा समय में भारत विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश है. इस बजट में हर वर्ग, हर क्षेत्र का ख्याल रखा गया है. यह बजट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ ध्येय वाक्य पर आधारित है. इससे विकास को और अधिक गति मिलेगी. बजट में किसानों, महिलाओं, युवाओं, मध्यमवर्ग, उद्योग जगत, स्वास्थ्य एवं शिक्षा जगत सहित सभी क्षेत्रों का ध्यान रखा गया है. आय पर लगने वाले कर में भारी कटौती की गई है.” Also Read - Private Banks Can Get Govt Business: अब कर संग्रह, पेंशन भुगतान और लघु बचत योजनाओं जैसे काम भी करेंगे निजी बैंक

उन्होंने कहा, “डिजिटल कनेक्टिविटी को बढ़ाने पर फोकस किया गया है. किसानों की आमदनी दोगुना करने पर ध्यान दिया गया है. मेडिकल डिवाइसेस पर लगने वाले टैक्स का इस्तेमाल स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ाने में किया जाएगा. 2025 तक टीबी खत्म करने का लक्ष्य है. इसके अलावा जन औषधि केंद्रों को 2024 तक हर जिले में शुरू किया जाएगा. Also Read - Privatisation of PSU Banks: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का निजीकरण क्यों करना चाहती है भारत सरकार?