Atal Pension Yojna Scheme: देश की मोदी सरकार द्वारा अटल पेंशन योजना में बड़ा बदलाव किया गया है. इस योजना के एक नियम को बदल दिया गया है. नियम में किए गए बदलाव के कारण इससे सीधे तौर पर 2 पेंशनधारकों को राहत मिलेगी. बता दें कि पेंशन नियामक PFRDA द्वारा बैंकों में अटल पेंशन योजना के अंशधारको के योगदान राशि को साल के किसी भी क्षण बदलाव करने को लेकर स्वीकृति दे दी गई है. इससे करोड़ो अटल पेंशन योजना के अंशधारकों को राहत मिलेगी.Also Read - EMI-Salary-Pension से जुड़े नियमों में 1 अगस्त से हो रहा है बड़ा बदलाव, आप पर पड़ेगा सीधा असर, जानिए क्या

नियमों में बदलाव Also Read - Covid-19 से हुई मौत का पता न चले, ये गुंजाइश नहीं, देश में मृत्यु पंजीकरण की मजबूत व्यवस्था: केंद्र

आसान शब्दों में अगर कहे तो अब अटल पेंशन योजना के योगदान राशि को आप साल के किसी भी वक्त घटा या बढ़ा सकते हैं. सरकार द्वारा ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि इस योजना को और भी आकर्षक बनाया जा सके. बता दें कि इससे पहले केवल अप्रैल महीने में ही अंशदान में बदलाव करने की अनुमित थी. Also Read - West Bengal News: केंद्र सरकार के खिलाफ ममता की दहाड़-भाजपा को सत्ता से बाहर करने तक 'खेला होबे'

क्षमता अनुसार अब दे सकते हैं अंशदान

इस बाबत पेंशन कोष नियामक प्राधिकरण (PFRDA) ने कहा कि 60 साल तक अंशधारकों का योजना में योगदान को बनाए रखना जरूरी है. इस कारण नियमों में बदलाव किया गया है ताकि अंशधारक अपनी आय और क्षमता के मुताबिक अपना अंशदान घटा या बढ़ा सके. बता दें कि अटल पेंशन योजना के तहत करीब 2.28 करोड़ अंशधारक रजिस्टर्ड हैं.

यह है योजना

आपको बता दें कि इस स्कीम से जड़ने वालों को बीस साल तक लगातार एक फिक्स किस्त अपने खाते से कटवानी पड़ती थी. लेकिन अब नियमों में बदलाव के साथ ही लोगों को यह अधिकार दे दिया गया है कि वे अपनी क्षमता अनुसार किश्त कटवाएं. यह स्कीम 60 साल की उम्र से लोगों को 1000 से 5000 रुपये तक की मिनिमम गारंटीड मंथली पेंशन देती है. इसका एक सबसे बड़ा लाभ यह भी है कि APY खाते में आप जो भी रकम जमा करेंगे उस पर आपको इनकम टैक्‍स छूट मिलेगी.

कैसे उठाएं योजना का लाभ

अगर आप भी इस अटल पेंशन योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो बात दें कि 60 साल के बाद एक हजार रुपये मंथली पेशन का लाभ उठाने के लिए 20 साल तक आपको 42 रुपये प्रतिमाह देने होंगे. यदि आप 5000 रुपये पेंशन के तौर पर लेना चाहते हैं तो आपको 60 साल की उम्र तक 210 रुपये देने होंगे. अगर आप 40 साल के हैं तो 1,000 रुपये के पेंशन के लिए आपको 291 रुपये और 5 हजार पेंशन के लिए 1,454 रुपये हर महीने जमा कराने होंगे.