आजकल हर कोई बैंकिंग सुविधाओं का इस्तमाल करने लगा है. लेकिन इन सुविधाओं के लिए बैंक अपने ग्राहकों से पैसे वसूलते हैं. यह बात बहुत लोग जानते हैं कि एसएमएस सुविधा, मिनिमम बैलेंस, एटीएम व चेक के इस्तेमाल पर भी बैंक आपसे पैसे वसूलते हैं. लेकिन अब नवंबर माह से ग्राहकों को बैंकों में अपना पैसा जमा करने और निकासी के लिए भी शुल्क देना पड़ेगा.Also Read - BOB Recruitment 2022: बैंक ऑफ बडौदा में वैकेंसी, बिना परीक्षा होगी भर्ती

बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) ने की शुरुआत  Also Read - Bank of Baroda Recruitment 2021: बैंक ऑफ बड़ौदा में सरकारी नौकरी का सुनहरा अवसर, जानें क्या चाहिए योग्यता

बैंक ऑफ बड़ौदा ने इसकी शुरुआत भी कर दी है. बैंक ऑफ इंडिया, पीएनबी, एक्सिस और सेंट्रल बैंक इस पर जल्द ही फैसला लेंगे. अगले महीने से यानी नवंबर 2020 से तय सीमा से ज्यादा बैंकिंग करने पर ग्राहकों को अलग से शुल्क देना होगा. Also Read - Crypto Credit Cards: बैंकों के क्रेडिट कार्ड से कितना अलग होता है क्रिप्टो क्रेडिट कार्ड, जानिए पूरी डिटेल्स

बता दें, बैंक ऑफ बड़ौदा ने चालू खाते, कैश क्रेडिट लिमिट और ओवरड्राफ्ट खाते से पैसे जमा और निकालने के अलग व बचत खाते से जमा-निकासी के अलग-अलग शुल्क निर्धारित किए हैं. अगले माह से ग्राहक लोन खाते के लिए महीने में तीन बार के बाद जितनी बार भी पैसा निकालेंगे, उन्हें 150 रुपये देने होंगे.

बचत खाते की बात करें, तो ऐसे खाताधारकों के लिए तीन बार तक जमा करना फ्री होगा, लेकिन अगर ग्राहकों ने चौथी बार पैसे जमा किए, तो उन्हें 40 रुपये देने होंगे. इतना ही नहीं, वरिष्ठ नागरिकों के लिए भी बैंकों ने कोई राहत नहीं दी है. जनधन खाताधारकों को इसमें थोड़ी राहत मिली है. उन्हें जमा करने पर कोई शुल्क नहीं देना होगा, लेकिन निकालने पर 100 रुपये देने होंगे.

आइए, जानते हैं सीसी, चालू, ओवरड्राफ्ट और बचत खाताधारकों के लिए नवंबर से जमा और निकासी पर कितना शुल्क वसूला जाएगा.

सीसी, चालू व ओवरड्राफ्ट खातों के लिए इतना होगा शुल्क

सीसी, चालू व ओवरड्राफ्ट खाताधारक अगर प्रतिदिन एक लाख रुपये तक जमा करते हैं, तो यह सुविधा निशुल्क होगी. लेकिन इससे ज्यादा पैसे जमा करने पर बैंक आपसे पैसे वसूलेंगे.

ऐसे खाताधारकों के एक लाख से ज्यादा जमा करने पर एक हजार रुपये पर एक रुपये चार्ज देना होगा. इसके लिए न्यूनतम व अधिकतम सीमा क्रमश: 50 रुपये और 20 हजार रुपये है.

अगर सीसी, चालू व ओवरड्राफ्ट खातों से एक महीने में तीन बार पैसे निकाले जाते हैं, तो ग्राहकों से कोई शुल्क नहीं वसूला जाएगा.
चौथी बार निकासी पर प्रत्येक विड्रॉल पर 150 रुपये का शुल्क लगेगा.

बचत खाताधारकों के लिए कितना होगा शुल्क

बचत खाताधारकों के लिए तीन बार तक जमा निशुल्क रहेगा. हालांकि चौथी बार से खाताधारकों को प्रत्येक बार पैसे जमा करने पर 40 रुपये देने होंगे.

निकासी की बात करें, तो प्रत्येक माह में तीन बार खाते से पैसा निकालने पर ग्राहकों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा. लेकिन चौथी बार से ग्राहकों को हर बार 100 रुपये का भुगतान करना अनिवार्य होगा.

फोलियो चार्ज भी वसूलते हैं बैंक

फोलियो चार्ज के नाम पर बैंकों को मोटी कमाई होती है. लेजर फोलियो के लिए बैंक 200 रुपये प्रति पेज वसूलते हैं. लेजर फोलियो किसी भी तरह के लोन पर सीसी या ओडी पर वसूला जाता है.