नई दिल्ली. दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल ने कहा कि उसने अपनी सहायक कंपनी भारती इंफ्राटेल के 8.3 करोड़ शेयरों को 3,325 करोड़ रुपये में शेयर बाजार में बिक्री के माध्यम से बेच दिया है. कंपनी ने बयान में कहा कि देश की सबसे बड़ी दूरसंचार कंपनी भारती एयरटेल बिक्री से प्राप्त राशि का उपयोग अपना कर्ज चुकाने में करेगी.

Vodafone chhota champion offer | वोडाफोन का ‘छोटा चैम्पियन’ ऑफर, मात्र 38 रुपये में कॉलिंग और डेटा

Vodafone chhota champion offer | वोडाफोन का ‘छोटा चैम्पियन’ ऑफर, मात्र 38 रुपये में कॉलिंग और डेटा

सिंतबर 2017 में एयरटेल का एकीकृत कर्ज 91,480 करोड़ रुपये था. बयान में आगे कहा गया है कि इस सौदे के बाद भारती एयरटेल और उसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियों के पास टॉवर कंपनी भारती इन्फ्राटेल में 53.51 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

एयरटेल ने अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी नेट्टले इंफ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट्स द्वारा यह बिक्री की. भारती इंफ्राटेल के 8.3 करोड़ शेयरों के सफल विनिवेश की घोषणा करते हुए भारती एयरटेल ने कहा, बिक्री 3,325 करोड़ रुपये से ज्यादा के लिए थी और इसके लिए 400.6 रुपये प्रति शेयर का मूल्य तय किया गया था.