Bitcoin: क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन ने आज लोगों के निवेश करने के तरीके को बदल करके रख दिया है. चाहे आपको मुनाफा मिले या घाटा हो. यह आफके ऊपर है कि आप उसमें बने रहना चाहते हैं या नहीं. क्रिप्टोकरेंसी या इस विकेंद्रीकृत डिजिटल मुद्रा मॉडल के कई समर्थक अपने बिटकॉइन निवेश के लिए लंबे समय तक रणनीतिक खर्च करते हैं. कुछ अन्य लोग इसके स्पष्ट सुरक्षा जोखिमों और स्थिरता की कमी के लिए इसका विरोध करते हैं. Also Read - केरल की एलडीएफ सरकार ने बजट में पेंशन वृद्धि के साथ उठाए किसानों के लिए राहत के कदम

आलोचना के बावजूद, भी लोगों ने इसमें निवेश करके पैसा बनाया है. यह बात बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जिसने करोड़ों रुपये की संपत्ति का निर्माण किया लेकिन नियंत्रण नहीं कर पाए, जो कुछ उन्होंने इसके माध्यम से बनाया था उसका पासवर्ड ही भूल गए. इसी तरह के एक शख्स हैं स्टीफन थॉमस. Also Read - केंद्रीय कर्मचारियों के 20 दिन की Earned Leave लेने की अनिवार्यता का सरकार ने किया खंडन, कहा- अटकलों से बचे मीडिया

थॉमस बिटकॉइन इस क्रिप्टोकरेंसी में उस दौर के निवेशक थे, जब इसका मूल्य केवल एकल या अधिकतम दोहरे अंकों में था. उनके पास आज तक 7,002 बिटकॉइन हैं, जो आज 245 मिलियन अमरीकी डालर (1800 करोड़ रुपये के बराबर) के मूल्य के हैं. थॉमस ने उन्हें सुरक्षित रखने के लिए आयरनके नामक एक एन्क्रिप्शन डिवाइस में अपने सभी बिटकॉइन पासवर्ड को संग्रहीत करके रखा था. Also Read - Rolls Royce Phantom: राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की रोल्स रॉयस फैंटम के लिए बोली लगाएगा यह भारतीय, जानें- कौन हैं वो शख्स