नई दिल्ली: सरकार ने शुक्रवार को ग्रैच्युटी की सीमा को 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 30 लाख रुपये करने की घोषणा की. वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने 2019-20 का बजट पेश करते हुए एक बड़ी पेंशन योजना की भी घोषणा की जिसके तहत असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को हर महीने 3,000 रुपये दिए जाएंगे.

Budget 2019: वित्त मंत्री पीयूष गोयल बोले- बड़ी ‘डिफॉल्टर’ कंपनियों से की तीन लाख करोड़ रुपये की वसूली

गोयल ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन (पीएमएसवाईएम) की घोषणा करते हुए कहा कि इससे असंगठित क्षेत्र के 10 करोड़ कर्मचारियों को फायदा होगा. गोयल ने कहा कि यह संभवत: पांच साल में असंगठित क्षेत्र के लिए दुनिया की सबसे बड़ी पेंशन योजना बन जाएगी. उन्होंने कहा कि असंगठित क्षेत्र के 42 करोड़ कर्मचारी देश के 50 प्रतिशत सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में योगदान देते हैं. वित्त मंत्री ने अगले वित्त वर्ष से ग्रैच्युटी की सीमा को भी 10 लाख रुपये से बढ़ाकर 30 लाख रुपये करने की घोषणा की.

Budget 2019: तीन किश्त में किसानों को मिलेंगे 6000, जानिए कब आएगा पहला पेमेंट

कर्मचारियों को हर महीने 3,000 रुपये की पेंशन
गोयल ने कहा कि पीएमएसवाईएम के तहत 60 साल की उम्र के बाद असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को हर महीने 3,000 रुपये की पेंशन मिलेगी. पेंशनभोगियों को इसके लिए हर महीने 100 रुपये का योगदान देना होगा. (इनपुट एजेंसी)

Budget 2019: वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा- पांच साल में देश में 239 अरब डॉलर का आया विदेशी निवेश