Budget 2019 टैक्‍स पेयर्स के लिए बड़ी खुशखबरी लेकर आया है. आखिरकार मध्‍यम वर्गीय टैक्‍स पेयर्स को वो राहत मिल गई है, जिसकी सब उम्‍मीद लगाए बैठे थे. Also Read - मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में हो सकता है फेरबदल, प्रधानमंत्री ने केंद्रीय मंत्रियों के साथ की बैठक

इस बजट में टैक्‍स को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं. टैक्‍स स्‍लैब में छूट की सीमा को बढ़ाकर 5 लाख सालाना कर दिया गया है. Also Read - किसान 'आंदोलन' के नाम पर आम आदमी की जिंदगी और समय से हो रहा खिलवाड़

इसका मतलब ये है कि अगर आपकी इनकम 5 लाख रुपए सालाना है तो आपको कोई टैक्‍स नहीं देना होगा. बजट के दौरान वित्‍त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पीपीएफ और अन्‍य इन्‍वेस्‍टमेंट के जरिए आप 6.5 लाख सालान इनकम में भी जीरो टैक्‍स की श्रेणी में आ सकते हैं. Also Read - Yuva Pradhan Mantri Yojana 2021: मोदी सरकार ने युवाओं के लिए शुरू की ये खास योजना, हर महीने मिलेंगे 50 हजार रुपये

इस नई व्‍यवस्‍था से अब 3 करोड़ टैक्‍स पेयर्स को सीधे फायदा मिलने की उम्‍मीद जताई जा रही है.

यही नहीं, सैलरी वालों के लिए अब स्‍टैंटर्ड डिडक्‍शन 40 हजार की जगह 50 हजार का होगा.

इसके अलावा सेविंग्‍स पर अगर 40 हजार तक का ब्‍याज मिल रहा है तो टीडीएस अब नहीं देना होगा. यानी बचत पर मिलने वाल ब्‍याज का पूरा फायदा आपको मिल पाएगा. इसके लिए सरकार को टैक्‍स भरने की जरूरत नहीं होगी.