नई दिल्ली: केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को लोकसभा में वर्ष 2020 का आम बजट प्रस्तुत किया, जिसके बाद से शेयर बाजार में उत्साहहीन प्रतिक्रिया देखी गई. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 12:55 पर 187.53 अंकों की गिरावट के साथ 40,535.96 पर और निफ्टी 60.10 अंकों की गिरावट के साथ 11,902 पर रहा. लेकिन जैसे-जैसे समय बीतता गया शेयर बाजार ने भी गोता लगाना जारी रखा. अपराह्न् लगभग पौने दो बजे बीएसई सेंसेक्स 682.81 अंक तक गिर गया. बजट के बाद सेंसेक्स 1000 अंक से ज्यादा लुढ़का और निफ्टी में भी 300 अंकों से ज्यादा की गिरावट आई. दोपहर बाद 3.16 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 1,020.81 अंकों की भारी गिरावट के साथ 39,702.68 पर बना हुआ था. वहीं, निफ्टी में 318.70 अंकों की गिरावट के साथ 11,643.40 पर कारोबार चल रहा था. Also Read - Share market: शेयर बाजार धड़ाम, 1,939 अंक टूटा सेंसेक्स, निफ्टी 587 अंक नीचे निपटा, निवेशकों के 6 लाख करोड़ डूबे

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शनिवार को सुबह में पिछले सत्र के मुकाबले बढ़त के साथ 40,753.18 पर खुला और 40,905.78 तक उछला, लेकिन बजट पेश होने के बाद सेंसेक्स कारोबार के दौरान लुढ़कर कर 39,692.46 पर आ गया. पिछले सत्र में सेंसेक्स 40,723.49 पर बंद हुआ था. Also Read - Private Banks Can Get Govt Business: अब कर संग्रह, पेंशन भुगतान और लघु बचत योजनाओं जैसे काम भी करेंगे निजी बैंक

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी हालांकि सत्र के आरंभ में पिछले सत्र के मुकाबले कमजोरी के साथ 11,939 पर खुला, लेकिन बाद में 12,017.35 तक चढ़ा. बजट पेश होने के बाद आई भारी बिकवाली के चलते निफ्टी लुढ़कर कर 11,639.40 पर आ गया. Also Read - Privatisation of PSU Banks: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का निजीकरण क्यों करना चाहती है भारत सरकार?

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को लोकसभा में आम बजट 2020-21 पेश किया, जिस पर बाजार की तत्काल प्रतिक्रिया निराशाजनक रही. जानकार बताते हैं कि निवेशकों को बजट से जो उम्मीदें थीं, उसकी पूर्ति इस बजट से होती प्रतीत नहीं हो रही है, क्योंकि विनिर्माण क्षेत्र और रियल एस्टेट सेक्टर को कोई खास प्रोत्साहन नहीं मिला है.

(इनपुट आईएएनएस)