Budget 2022: आगामी बजट में वित्त मंत्री से करदाताओं को राहत की उम्मीद, तरलता बढ़ने से बाजार होगा जीवंत

Budget 2022: आगामी बजट में वित्त मंत्री से करदाताओं को राहत की उम्मीद है. कई वर्षों से टैक्स के स्लैब में बदलाव नहीं किया गया है. उम्मीद की जा रही है कि इस बार के बजट में करदाताओं के लिए टैक्स छूट की सीमा में बढ़ोतरी की जाएगी.

Published: January 10, 2022 4:26 PM IST

By Manoj Yadav

Nirmala Sitharaman
Photo/ANI

Budget 2022 | Nirmala Sitharaman: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) इस साल 1 फरवरी को अपना चौथा बजट पेश करेंगी. क्या आगामी केंद्रीय बजट 2022 मौजूदा आयकर दरों में कोई बदलाव लाएंगी. करदाताओं को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से कुछ छूट या राहत की उम्मीद है. बता दें, पिछले साल सरकार ने कोरोनोवायरस महामारी से प्रभावित अर्थव्यवस्था को फिर से जीवंत करने के लिए कई प्रोत्साहन पैकेजों की घोषणा की थी.

Also Read:

आगामी केंद्रीय बजट में करदाता वित्त मंत्री से कुछ छूट या राहत की उम्मीद कर रहे हैं, क्योंकि कुछ वर्षों से स्लैब में बदलाव नहीं किया गया है. स्लैब में बदलाव से खरीदारों के हाथों में अधिक तरलता आएगी. यदि सरकार खरीदारों और विक्रेताओं दोनों के लिए कर दरों में कमी करती है, तो यह बाजार को फिर से जीवंत करेगा. इससे आवास और उच्च उत्पादों की मांग बढ़ेगी. लेकिन, बाजार में तरलता की अधिकता होने पर आरबीआई के लिए चिंता का विषय हो सकता है, क्योंकि इससे महंगाई बढ़ने की आशंका बनी रहती है.

“मेक इन इंडिया’ और पीएलआई योजनाओं के माध्यम से अर्थव्यवस्था को मजबूत करने और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए बड़े धमाकेदार सुधारों पर सरकार के मजबूत फोकस के साथ यह एक बड़ा प्लस प्वॉइंट है और इससे उम्मीदें अधिक हैं. हमारा मानना ​​है कि इस सरकार को खर्च और खपत को बढ़ावा देने के लिए प्रत्यक्ष डिस्पोजेबल आय को बढ़ावा देना चाहिए.

इससे यह उम्मीद की जा रही है कि मौजूदा हालात में आर्थिक सुधारों में तेजी लाने, उद्यमिता को बढ़ावा देने और करदाताओं को राहत देने के मकसद से वित्त मंत्री बजट में अहम घोषणाएं कर सकती हैं.

उम्मीद है कि, इस बजट 2022 में, सरकार यह तय कर सकती है कि करदाताओं को किस हद तक कर छूट मिलेगी या अगले वित्तीय वर्ष के लिए कर ढांचे में क्या बदलाव किए जाएंगे. बजट में शिक्षा और देश के बुनियादी ढांचे को और मजबूत करने को लेकर भी घोषणाएं की जा सकती हैं. इस बजट में यह भी देखा जाएगा कि सरकार उत्पाद शुल्क, सीमा शुल्क, आयात शुल्क, किसी भी चीज पर उपकर बढ़ाती या घटाती है.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 10, 2022 4:26 PM IST