China IOT Market: चीन का इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IOT) बाजार 2025 में 300 बिलियन डॉलर को पार करने की उम्मीद है. उद्योग की एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है. रिसर्च फर्म इंटरनेशनल डेटा कॉरपोरेशन (IDC) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यह आंकड़ा कुल वैश्विक आईओटी बाजार की मात्रा का लगभग 26.1 प्रतिशत होगा.Also Read - चीनी सेना PLA ने इंडियन आर्मी को सौंपा अरुणाचल प्रदेश के 19 साल के लड़के को: केंद्रीय मंत्री रिजिजू का ट्वीट

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अगले पांच वर्षों में, सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर और सेवा पर चीन के खर्च में लगातार वृद्धि होगी. Also Read - IMF ने 2022 में भारत की वृद्धि दर का अनुमान 9 प्रतिशत किया, चीन 4.8%, यूएस 4% फीसदी पर रहेंगे

रिपोर्ट में कहा गया है कि इंटरनेट ऑफ व्हीकल्स, स्मार्ट मीटरिंग, इंटेलिजेंट होम और वियरेबल टर्मिनलों में 5जी सहित बुनियादी ढांचे के निर्माण की बदौलत तेजी से वृद्धि होगी. Also Read - ताइवान में चीन की मनमानी : भेजे 39 लड़ाकू विमान, ताइवान ने की जवाबी कार्रवाई

आईओटी पर वैश्विक खर्च इस साल 754.28 बिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगा, जबकि 2025 में यह 2021 और 2025 के बीच 11.4 प्रतिशत की चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर के साथ 1.2 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगी.

आईओटी में और वृद्धि होगी क्योंकि हार्डवेयर विक्रेता इसके विस्तार और विकास के लिए आर एंड डी का काम करते हैं. आईओटी के विकास के लिए न केवल हार्डवेयर विक्रेता काम कर रहे हैं, बल्कि ऐसे नेटवर्क विक्रेता भी हैं जो नई नेटवर्क शब्दावली में अधिक निवेश कर रहे हैं.

यह उम्मीद की जाती है कि आईओटी उद्योग स्तर पर और अधिक विकसित होगा. मैन्युफैक्चरिंग, लॉजिस्टिक्स और ट्रांसपोर्टेशन, ऑटोमोटिव और यूटिलिटीज आईओटी को आगे बढ़ाएंगे और इसे सफलता की ऊंचाई तक ले जाएंगे.

(With IANS Inputs)