देश में कोरोना संकट की वजह से हर कोई परेशान है. ऐसे में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपने राज्य के छात्रों को एक बड़ी राहत दी है. उन्होंने कहा है कि राज्य में हजारों छात्रों द्वारा लिए गए शिक्षा कर्ज पर तीन महीने के ब्याज का भुगतान राज्य सरकार करेगी. Also Read - देश के कई राज्‍यों में भयंकर गर्मी, पारा 47 डिग्री के पार, जानें कब मिलेगी राहत

उन्होंने राज्य के लोगों को टेलीविजन के जरिए अपने संबोधन में कहा, ‘हरियाणा सरकार इस साल अपनी शिक्षा पूरी करने वाले या पिछले साल अपनी शिक्षा पूरी करने वाले ऐसे सभी छात्रों के शिक्षा के कर्ज पर ब्याज का भार वहन करेगी जिन्होंने कोरोना वायरस महामारी के कारण नौकरी नहीं शुरू की है या कोई कारोबार आरंभ नहीं किया है.’ उन्होंने कहा कि सरकार के इस कदम से 36,000 छात्रों को फायदा होगा. Also Read - शादी के तुरंत बाद दूल्‍हा-दुल्‍हन सीधे पहुंचे अस्‍पताल, कोरोना टेस्‍ट कराने के बाद पहुंचे घर

सरकार की इस घोषणा से राज्य के खजाने पर 40 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा. मुख्यमंत्री के हवाले से एक बयान में कहा गया है कि हरियाणा सरकार केंद्र के मुद्रा लोन कार्यक्रम की ‘शिशु योजना’ के तहत 50,000 रुपये तक के कर्ज पर कुल ब्याज के दो प्रतिशत को भी वहन करेगी. Also Read - अमेरिका 161 भारतीयों को इस सप्ताह भेजेगा स्वदेश, हरियाणा के हैं सबसे अधिक 76 नागरिक