Corona Lockdown Impact: चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-नवंबर के दौरान भारत में सोने का आयात (Gold import in India) 40 फीसदी घटकर 12.3 अरब डॉलर रहा. कोविड-19 महामारी के मद्देनजर लॉकडाउन किए जाने से मांग में कमी दर्ज की गई जिससे सोने का आयात घटा है.Also Read - Gold-silver import: अप्रैल-जून में भारत में सोने के आयात में उछाल, चांदी के आयात में गिरावट

बता दें, सोने के आयात का असर चालू खाते के घाटे पर भी पड़ता है. Also Read - Gold-silver import in India: मई में भारत का सोने का आयात बढ़ा, चांदी के आयात में गिरावट

वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में इस मूल्यवान धातु का आयात 20.6 अरब डॉलर का था. हालांकि नवंबर महीने में सालाना आधार पर आयात 2.65 फीसदी बढ़कर 3 अरब डॉलर रहा. चांदी का आयात भी चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-नवंबर के दौरान 65.7 फीसदी घटकर 75.2 करोड़ डॉलर रहा. Also Read - Gold Import: मार्च में 160 टन सोने का हुआ आयात, जानें - क्या रही वजह?

सोने- चांदी के आयात में गिरावट से देश के व्यापार घाटा (आयात एवं निर्यात का अंतर) 2020-21 के अप्रैल-नवंबर में 42 अरब डॉलर तक सीमित रहा. एक साल पहले इसी अवधि में यह 113.42 अरब डॉलर था. भारत सोने का सबसे बड़ा आयातक है.

गौरतलब है कि आभूषण उद्योग की मांग को पूरा करने के लिये विदेशों से सोने का आयात किया जाता है. मात्रा के हिसाब से सोने का आयात सालाना 800 से 900 टन तक रहता है. चालू वित्त वर्ष के पहले आठ महीनों में रत्न एवं आभूषण निर्यात 44 फीसदी घटकर 14.30 अरब डॉलर रहा.

(Inputs from Bhasha)