Crude oil price: पेट्रोल-डीजल के भावों लगातार की जा रही बढ़ोतरी नहीं रुक रही है. तेल की कीमतों में बढ़ोतरी होने से लोगों की जेब पर खासा असर होता हुआ देखा जा रहा है. हर किसी की यह इच्छा हो रही है कि तेल की कीमतों को घटाया जाना चाहिए. लेकिन कच्चे तेल (Crude Oil) की कीमतें 75 डॉलर प्रति बैरल के पार पहुंच जाने से मुसीबत और बढ़ती जा रही है. पिछले दो साल में यह पहला मौका है, जब बेंट क्रूड के दाम इस स्तर को पार कर गए हैं. फ्यूचर मार्केट के अलावा फिजिकल मार्केट में कच्चे तेल के दाम में इजाफा होने से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में और बढ़ोतरी होने के संकेत हैं.Also Read - कच्चे तेल की कीमतों में 30 फीसदी की गिरावट के बावजूद ऑटो ईंधन की कीमतों में कटौती के आसार नहीं

सरकारी तेल कंपनियों ने आज पेट्रोल की कीमतों (Petrol Price) में 26 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की. जबकि डीजल के दाम (Diesel Price) 7 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए हैं. Also Read - Dollar Vs Rupee : शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 10 पैसे टूटा

दिल्ली में गुरुवार को पेट्रोल का दाम बढ़ कर 97.76 रुपए प्रति लीटर पहुंच गया है. वहीं डीजल की कीमत भी बढ़कर 88.30 रुपए प्रति लीटर हो गई है. बीते चार मई से इसकी कीमतों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है. इससे लोगों की आर्थिक समस्याएं और बढ़ती जा रही हैं. Also Read - Crude Oil Price : मांग में कमी की चिंता से सप्ताह में 4 फीसदी गिरे कच्चे तेल के दाम, 90 प्रति बैरल से नीचे पहुंचे रेट

इसके पहले सरकारी तेल कंपनियों ने अंतिम बार 27 फरवरी 2021 को डीजल के दाम में 17 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी. इसके बाद दो महीने से भी ज्यादा दिनों तक इसके दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई. लेकिन, विधानसभा चुनाव बीतने के बाद 4 मई से लगातार इसकी कीमतों में इजाफा किया जा रहा है. आंकड़ों के मुताबिक 30 दिनों में डीजल के दाम करीब 7.52 रुपए प्रति लीटर तक बढ़ चुके हैं.

दो साल के उच्च स्तर पर पहुंचा ब्रेंट क्रूड ऑयल

कच्चे तेल की कीमतों में हो रहे इजाफे ने पिछले दो साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. बुधवार को ब्रेंट क्रूड का दाम 75 डॉलर प्रति बैरल के पार चला गया. अमेरिकी क्रूड बाजार (US Crude Market) में बुधवार को ब्रेंट क्रूड (Brent Crude) 0.38 डॉलर प्रति बैरल चढ़कर 75.19 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ था. यूएस वेस्ट टैक्सास इंटरमीडियएट या डब्ल्यूटीआई क्रूड (WTI Crude Oil) भी 0.18 डॉलर चढ़कर 73.26 डॉलर प्रति बैरल पर बंद हुआ था.