Crude oil price today: मंगलवार को कच्चे तेल की कीमतों में जबरदस्त तेजी देखी गई. कच्चे तेल के दाम आज तीन महीने की ऊंचाई पर पहुंच गए. कोरोना वैक्सीन के जल्द आने की उम्मीद में कच्चे तेल के दाम लगातार बड़ रहे हैं. उम्मीद की जा रही है कि कोरोना वैक्सीन के जल्द आने से महामारी काबू में आएगी, जिससे कच्चे तेल की मांग बढ़ेगी. Also Read - Fire in Serum Institute: 'Covishield' बनाने वाले सीरम इंस्टीट्यूट की बिल्डिंग में भीषण आग, दमकल की गाड़ियों ने आग पर पाया काबू

मंगलवार को ब्रेंट क्रूड वायदा 3 सेंट या 0.1 फीसदी बढ़कर 46.09 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. जबकि यू.एस. वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट क्रूड 11 सेंट या 0.3 फीसदी बढ़कर 43.17 डॉलर प्रति बैरल हो गया. दोनों बेंचमार्क ने पिछले सप्ताह लगभग 5 फीसदी की तेजी दर्ज की थी. सोमवार को इनमें लगभग 2 फीसदी का उछाल देखा गया था. Also Read - भारत न‍िभा रहा पड़ोसी धर्म, Covid-19 Vaccine के 30 लाख डोज नेपाल और बांग्‍लादेश को रवाना क‍िए

MCX पर कच्चा तेल दिसंबर वायदा का भाव 36 रुपये या 1.13 फीसदी की तेजी के साथ 3231 रुपये प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था. एस्ट्राजेनिका (AstraZeneca) ने सोमवार को कहा कि कंपनी की कोविड वैक्सीन 90 फीसदी तक प्रभावी पाई गई है. यह वैक्सीन कोरोना महामारी को रोकने में बड़ा हथियार साबित हो सकती है और यह काफी सस्ती भी है. Also Read - कोरोना वैक्सीन लगने के बाद हेल्थ वर्कर की मौत, विशेषज्ञों ने कहा...

वहीं, कच्चे तेल का निर्यात करने वाले देशों का समूह ओपेक, रूस और अन्य उत्पादक देश कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती जारी रख सकते हैं. ओपेक और दूसरे उत्पादक देशों के समूह को ओपेक प्लस कहा जाता है. इन देशों की 30 नवंबर और 1 दिसंबर को बैठक होने वाली है.