नई दिल्ली। प्रमुख इंटरनेट कंपनी गूगल का कहना है कि बिजली, दूरसंचार व डीटीएच सहित विभिन्न सेवाएं देने वाली 90 कंपनियों के बिलों का ऑनलाइन भुगतान उसके गूगल तेज एप के जरिए किया जा सकता है. गूगल तेज, गूगल का भुगतान एप है जो यूपीआई इंटरफेस पर काम करता है. गूगल की उपाध्यक्ष डायना लेफील्ड ने एक बयान में कहा है कि गूगल तेज के बढ़ते उपयोक्ता आधार के लिए एप में फीचर बढ़ाए गए हैं और अब वे बिजली, डीटीएच, गैस, पानी सहित अनेक सेवाओं के बिलों का भुगतान कर सकते हैं. Also Read - चीन से तनाव के बीच मोदी सरकार का एक और बड़ा फैसला, ब्लैकलिस्ट हो सकते हैं कई टेलीकॉम वेंडर्स

Also Read - अब कम पैसों पर अध‍िक TV चैनल देख पाएंगे कस्‍टमर्स, ट्राई ने ऐसे कम किया टैक्‍स

इसके तहत उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, बिहार, आंध्र प्रदेश, गुजरात व ओडिशा राज्यों में बिजली कंपनी रिलायंस एनर्जी, बीएसईएस को शामिल किया गया है. इस तरह भारती एयरटेल, बीएसएनएल, एमटीएनएल, एसबीआई लाईफ, भारती एक्सा व आईसीआईसी प्रूडेंशियल को भी इसमें शामिल किया गया है. Also Read - Tata Sky HD Set-Top Box अब न्यू मल्टी यूजर्स को महज 999 रुपये में मिलेगा

बता दें कि ‘तेज’ एक एप है जिसे एंड्रॉयड या आईओएस डिवाइसों के लिए डाउनलोड किया जा सकता है. यह सरकारी नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनसीपीआई) द्वारा बनाए गए पेमेंट प्रोटोकॉल यूपीआई पर आधारित एप है. अंग्रेजी और हिन्दी के अलावा ‘तेज’ एप कई भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है, जिसमें बंगाली, गुजराती, मराठी, कन्नड़, तमिल और तेलुगू प्रमुख हैं.

यह भी पढ़ें- गूगल के ‘व्यू इमेज’ ऑप्शन को हटाने से माइक्रोसॉफ्ट के बिंग को मिला फायदा

इसका यूजर इंटरफेस काफी सरल है. यह एप खोलने पर सबसे पहले साइन इन करना होता है, जिसके लिए बैंक खाते के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर डालना होता है. उसके बाद यूजर को एसएमएस के माध्यम से एक ओटीपी भेजा जाता है और ईमेल आईडी मुहैया कराने के साथ ही पंजीकरण पूरा हो जाता है.

इस एप के माध्यम से यूजर बिल का भुगतान कर सकते हैं, और सीधे अपने बैंक खाते में रकम भेज सकते हैं या प्राप्त कर सकते हैं. गूगल तेज एप के माध्यम से क्यूआर कोड का स्कैन कर भुगतान भी किया जा सकता है.

भाषा इनपुट