Deadline for filing returns by individual taxpayers for 2019-20 extended: व्यक्तिगत करदाताओं के लिये आईटीआर दाखिल करने की समयसीमा एक महीने और बढ़ा दी गई है. वित्त मंत्रालय ने शनिवार को ये जानकारी दी. वित्त मंत्रालय ने कहा कि व्यक्तिगत करदाताओं के लिए वित्त वर्ष 2019-20 का आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल करने की समयसीमा एक महीने और बढ़ाकर 31 दिसंबर की गई है. Also Read - Income Tax Department News: आयकर विभाग ने 41.25 लाख आयकर दाताओं को जारी किया 1.36 लाख करोड़ का रिफंड

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) के अनुसार अब आम नागरिक, जिन्हें अपने रिटर्न के साथ ऑडिट रिपोर्ट नहीं लगानी पड़ती थी, वह वर्ष 2019-20 के लिए अपना रिटर्न 31 दिसंबर 2020 तक दायर कर सकते हैं. पहले इसके लिए अंतिम तारीख 30 नवंबर 2020 तय की गई थी. Also Read - केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने एक अप्रैल से तीन नवंबर के बीच जारी किए 1,29,190 करोड़ से अधिक के रिफंड

केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने कहा कि अब वैसे करदाता, जिनके रिटर्न में ऑडिट रिपोर्ट नहीं लगती है, वह 31 दिसंबर 2020 तक अपना रिटर्न दाखिल कर सकते हैं। वैसे टैक्सपेयर, जिनके रिटर्न में ऑडिट रिपोर्ट लगानी पड़ती है, उनके लिए आईटी रिटर्न दाखिल करने की अंतिम तारीख 31 जनवरी 2021 तय की गई है. Also Read - 2019-20 के लिए सरकार ने ITR फाइल करने की समय सीमा बढ़ाई, यहां क्लिक करके जानिए नई तारीख

सीबीडीटी ने कहा कि करदाताओं को आईटीआर भरने में अधिक समय देने के लिये समय-सीमा बढ़ायी गयी है.