Diesel sales news update: नवंबर महीने के पहले दो सप्ताह के दौरान भारत में डीजल की बिक्री साल भर पहले की तुलना में पांच फीसदी कम हो गई. सोमवार को उद्योग जगत के आंकड़ों में इसकी जानकारी मिली. अक्टूबर महीने में डीजल की बिक्री में आठ महीने बाद पहली बार तेजी आई थी. Also Read - Petrol-Diesel Price Today: पेट्रोल, डीजल के दाम में लगातार तीसरे दिन बढ़े, अब एक लीटर के आपको इतने देने पड़ेंगे रुपये

हालांकि, नवंबर में अभी तक डीजल की बिक्री मासिक आधार पर सात फीसदी अधिक है. एक से 15 नवंबर के बीच डीजल की खपत 28.6 लाख टन रही, जो एक साल पहले इसी अवधि में 30.1 लाख टन थी. Also Read - Petrol-Diesel Rate Today: डेढ़ माह से अधिक दिनों तक स्थिर रहने के बाद आज बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

हालांकि, यह अक्टूबर के पहले दो सप्ताह के दौरान की 26.5 लाख टन मांग से अधिक रही. इस दौरान पेट्रोल की बिक्री 10.2 लाख टन से बढ़कर 10.3 लाख टन हो गई. जबकि इस साल पहली बार रसोई गैस की बिक्री 2 फीसदी घटकर 10.7 लाख टन रही.

विमानन ईंधन (एटीएफ) की बिक्री साल दर साल 53 फीसदी घटकर 155,000 टन रही. हालांकि मासिक आधार पर यह 1.3 फीसदी अधिक रही. अक्टूबर में पेट्रोलियम उत्पादों की कुल मांग 2.5 फीसदी बढ़कर 177.7 लाख टन पर पहुंच गई. पेट्रोल की मांग सितंबर में ही महामारी से पहले के स्तर पर पहुंच गई. पेट्रोल की मांग सितंबर में ही महामारी से पहले के स्तर पर पहुंच गई थी. अक्टूबर माह में डीजल की मांग इस स्तर पर थी.

(With Bhasha Inputs)