उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने किसानों को दिवाली का तोहफा दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंडी शुल्क की दर को आधा कर दिया है. सरकार ने इसे 2 फीसदी से घटाकर मात्र 1 फीसदी करने का आदेश दिया है. मंडियों में विकास कार्यों को गति प्रदान के लिए विकास शुल्क की दर (0.5 प्रतिशत) पूर्ववत बनी रहेगी. Also Read - अब प्रयागराज के इस स्थान में स्थापित होगी भगवान राम की विशाल मूर्ति, योगी सरकार ने 15 करोड़ बजट को दी स्वीकृति

अब मंडी परिसर के अंदर व्यापार करने पर वर्तमान में लागू 2.5 फीसदी के स्थान पर कुल 1.5 फीसदी कर चुकाना होगा. मुख्यमंत्री कार्यालय ने गुरुवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी है. Also Read - Uttar Pradesh Roadways News: रोडवेज के संविदा चालकों और परिचालकों को योगी सरकार का तोहफा

गौरतलब है कि दीपावली से इसके पहले 14.82 लाख राज्यकर्मियों को बोनस का तोहफा दिया था. कोरोना वायरस के कारण बदली परिस्थितियों में भी प्रदेश के 14.82 लाख अराजपत्रित राज्य कर्मचारियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दीपावली से पहले बोनस का तोहफा दिया है, जिसकी अधिकतम धनराशि 7000 रुपये तय की गई है.

25 फीसदी धनराशि का भुगतान नगद और 75 फीसदी धनराशि कर्मचारी के भविष्य निधि (जीपीएफ) खाते में जमा की जाएगी. बोनस दिए जाने पर सरकार के खजाने पर 1022.75 करोड़ का भार पड़ेगा. गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोनस दिए जाने की मंजूरी दी. इसका लाभ राज्य के 14 लाख 82 हजार 187 कर्मचारियों को मिलेगा.