EPF Withdrawal Process, Know here all details: कोरोना महामारी की वजह से देश और दुनिया में बड़ी संख्या में लोग बेरोजगार हुए हैं या फिर उनकी आर्थिक स्थिति चरमरा गई है. इसी वजह से सरकार ने कर्मचारियों को उनके ईपीएफ खाते से कुछ पैसे निकालने की अनुमति दी है, जिससे कि वे अपनी तत्कालिक जरूरतों को पूरा कर सकें. ये सुविधा पूरी तरह ऑनलाइन है. आप ऑनलाइन आवेदन कर अपने ईपीएफ खाते से तीन महीने के कुल वेतन के बराबर राशि या फिर ईपीएफ खाते में जमा राशि का 75 फीसदी हिस्सा निकाल सकते हैं. इसमें जो राशि कम रहेगी वही आपको मिलेगा. Also Read - Generate UAN Online: अगर आपके पास अभी तक नहीं है UAN तो घर बैठे केवल 5 स्टेप्स में ऐसे करें जेनरेट

तमाम दावों के बीच अगर आपको पास पर्याप्त जानकारी नहीं है तो आप संकट के इस दौर में अपना पैसा नहीं निकाल सकते. इसीलिए पिछले 26 अप्रैल को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने निकासी प्रक्रिया (withdrawal process) के बारे में तमाम सवालों के जवाब जारी किए. इन सवाल और जवाब को जानकर आप अपनी तमाम परेशानियों का हल ढूंढ सकते हैं…तो आइए एक नजर डालते हैं इन सवाल और जवाब पर… Also Read - EPFO/UAN Mobile Number Update: Epfo में कुछ यूं बदले मोबाइल नंबर, फिर पैसे निकालने होंगे आसान

1. सवाल: शादी के बाद एक महिला सदस्य UAN में अपना नाम कैसे बदलवा सकती है? जबकि आधार में यह बदलाव पहले ही किया जा चुका है.

जवाबः आधार डाटा में नाम बदले जाने के बाद UAN में नाम बदलवाने की प्रक्रिया वैसी ही है जिस तरह अन्य बदलाव करवाए जाते हैं. सदस्य को ऑनलाइन आवेदन करना होगा और नियोक्ता को इस आवेदन को डिजिटली अप्रूव करना होगा. इसके बाद आवेदन को ऑनलाइन या ऑफलाइन सब्मिट करना होगा. इसके साथ मैरिज सर्टिफिकेट या अन्य दस्तावेज लगाने होंगे जिससे पता चले कि शादी के बाद महिला सदस्य का नाम बदल गया है. इसमें स्कूल का रिकार्ड, जिसमें पिता का नाम और जन्मतिथि हो या फिर शादी से पहले का पैन हो सकता है. इससे पता चलेगा कि केवल शादी के बाद ही नाम बदला है. Also Read - EPFO/UAN Mobile Number Update: निकालना चाहते हैं EPFO से पैसे, लेकिन भूल गए हैं मोबाइल नंबर, ये है आसान तरीका

2. सवालः यूनिफायर पोर्टल पर ‘Know your UAN’ मौजूद नहीं है. क्या इसके लिए नियोक्ता से संपर्क करना ही एक मात्र विकल्प है?

जवाबः
स्टेप-1: unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface लॉग इन करें.
स्टेप-2: मेंबर आईडी, आधार या पैन सेलेक्ट करें.
स्टेप-3: डिटेल डालें. जैसे नाम, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर और ईपीएफओ रिकॉर्ड के हिसाब से ईमेल आईडी.
स्टेप-4: Get Authorization Pin पर क्लिक करें.
स्टेप-5: पिन आपको ईपीएफओ के पास रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा.
स्टेप-6: इसके बाद पिन एंटर करने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर UAN नंबर आ जाएगा.

3. सवालः मैंने मार्च 2020 में बीमारी के वक्त एडवांस के लिए पैसे का आवेदन किया था. वह आवेदन अब तक पेंडिंग है. अब मुझे कोविड महामारी के वक्त पैसे के लिए आवेदन करना है. मुझे क्या करना चाहिए?

जवाबः किसी भी एडवांस के लिए आवेदन पेंडिग होने की स्थिति में कोविड महामारी के वक्त भी पैसे के लिए आवेदन कर सकते हैं.

4. सवालः केवाईसी अपडेट करने के लिए नियोक्ता का DSC के जरिए मंजूरी की जरूरत है. लेकिन इस समय संस्थाएं बंद हैं और कोई नियोक्ता नहीं है तो ये कैसे अप्रूव होगा?

जवाबः अब केवाईसी को अप्रूव करने की प्रक्रिया ऑनलाइन है. इसमें लोकेशन से कोई अंतर नहीं पड़ता.

5. सवालः क्लेम फाइल करते समय मेंबर के नाम का चेक या पासबुक अपलोड करना होता है. लेकिन मेरे चेक बुक पर मेरा नाम नहीं छपा है और इस वक्त बैंक से हासिल करना भी मुश्किल है. ऐसे में मुझे क्या करना चाहिए?

जवाबः यह पहले ही कहा जा चुका है कि आवेदन करते समय आपको प्रिंटेड नाम वाला चेक या पासबुक का पहला पेज, जिसपर नाम छपा रहा है, उसे देना होता है. ऐसा करना जरूरी होता है. इसके बाद क्लेम पास नहीं होगा, क्योंकि इससे आपके द्वारा दिए गए बैंक खाते की सत्यता की जांच की जाती है.

6. सवालः आपने दावा किया है कि कोविड एडवांस क्लेम को 72 घंटे में पूरा किया जाएगा. लेकिन मुझे आवेदन किए हुए चार दिन हो गए. मेरे खाते में कोई पैसा नहीं आया है.

जवाबः ईपीएफओ तीन वर्किंग डे में कोविड एडवांस क्लेम को निपटाता है. क्लेम प्रोसेस करने के बाद आपके खाते में राशि डालने के लिए आपके बैंक में चेक जमा करवाया जाता है. इस प्रक्रिया में बैंक एक से तीन दिन का समय लेते हैं.

7. मैंने दो कंपनियों में काम किया है और अब तीसरी कंपनी में काम कर रहा हूं. मुझे पीएफ के पुराने खाते के पैसे मौजूदा खाते में डालना है ताकि मैं इस संकट में पैसा निकाल सकूं.

जवाबः अगर आपके सभी खातों में नाम, जन्मतिथि और लिंग में कोई अंतर नहीं है तो आप अपने लॉगइन के जरिए ट्रांस्फर के लिए आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए आपका मौजूदा UAN आधार के जरिए वैलिडेट होना चाहिए. अगर खातों में अंतर है तो आप इसे पहले ऑनलाइन ठीक करवाइए.

8. सवालः मैं A शहर रहता हूं और B शहर में काम करता हूं. लेकिन मेरे ऑफिस का मुख्यालय C शहर में है. ऐसे में मुझे किसी काम के संदर्भ में किस EPF ऑफिस में जाना चाहिए?

जवाबः आपको वहां के ऑफिस से संपर्क करना चाहिए जहां आपकी कंपनी रजिस्टर्ड है. संबंधित ईपीएफ ऑफिस की जानकारी के लिए unifiedportal-epfo.epfindia.gov.in/publicPortal पर जाना चाहिए. यहां आपको अपनी कंपनी का पीएफ कोड, कैप्चा डालकर सर्च करना चाहिए. इसके बाद कंपनी का डिटेल मिल जाएगा.

9. ई-मेल और फोन के जरिए अपने ईपीएफ ऑफिस से संपर्क करना चाहते हैं. मुझे ईपीएफ ऑफिस का कॉन्टेक्ट डिटेल दीजिए.

जवाबः आप epfindia.gov.in वेबसाइट पर जाइए. यहां पर हर तरह की जानकारी है. वहां पर Contact us का ऑप्शन है. इस पर क्लिक कर आप रिजनल या जिला ऑफिस का कॉन्टेक्ट डिटेल प्राप्त कर सकते हैं.

10. मैंने कोविड महामारी में एडवांस के लिए आवेदन किया है. मैं अपने क्लेम का स्टेटस कैसे जान सकता हूं.

जवाबः passbook.epfindia.gov.in/MemberPassBook/Login पर जाइए. वहां ऑनलाइन सर्विस पर क्लिक करें और फिर ट्रैक क्लेम स्टेटस पर जाएं.