EPFO News: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) दिसंबर के आखिरी तक कर्मचारियों के पीएफ (PF) खाते में वित्त वर्ष 2019-20 के लिए तकरीबन 6 करोड़ ग्राहकों के खाते में 8.5 फीसदी ब्याज जमा करने की संभावना जताई जा रही है.Also Read - EPFO News: ईपीएफओ ने लिया बड़ा निर्णय, अब कर्मचारी की मौत के बाद मिलेंगे 8 लाख रुपये, जानिए- कब होगा ऐसा?

बता दें, इससे पहले ईपीएफओ (EPFO) ने सितंबर में श्रम मंत्री संतोष गंगवार की अध्यक्षता में पीएप पर ब्याज का भुगतान दो किस्तों में करने का फैसला किया गया था. पहली किस्त में 8.15 फीसदी और दूसरी किस्त में 0.35 फीसदी ब्याज दिया जाना था. Also Read - EPFO Latest Update: अगस्त में EPFO ​​ने जोड़े 14.81 लाख नेट सब्सक्राइबर; 50% नई नौकरी चाहने वाले

समाचार एजेंसी पीटीआई के सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली है कि श्रम मंत्रालय ने वित्त मंत्रालय को दिसंब माह के शुरुआत में 2019-20 के लिए पीएफ पर ब्याज दर 8.5 फीसदी (एक बार में पूरा ब्याज) का भुगतान करने का प्रस्ताव भेजा है और संभावना जताई जा रही है कि वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) से कुछ दिनों में इस प्रस्ताव को मंजूरी भी मिल सकती है. Also Read - केंद्र लंबित निर्यात प्रोत्साहनों के लिए बकाया के रूप में 56 हजार करोड़ रुपये जारी करेगा

इस तरह से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि इसी महीने ब्याज की पूरी रकम का भुगतान किया जा सकता है. सूत्रों ने यह बताया कि वित्त मंत्रालय ने पिछले साल की ब्याज दर पर कुछ स्पष्टीकरण मांगा था, जिसके सभी जवाब भेजे जा चुके हैं.

गौरतलब है कि इस साल मार्च में ईपीएफओ (EPFO) पर फैसला लेने वाली बड़ी संस्था सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (Central Board of Trustees- CBT) ने लेबर मिनिस्टर संतोष गंगवार की अध्यक्षता में 2019-20 के लिए EPF पर 8.5 फीसदी ब्याज को मंजूरी दी थी. सितंबर में CBT की वर्चुअल मीटिंग में EPFO ने पिछले फिस्कल ईयर में 8.5 फीसदी ब्याज देने के वादे पर मुहर लगाई. लेकिन CBT ने महामारी को देखते हुए दो किस्तों में ब्याज का भुगतान करने का फैसला किया.