न्यूयॉर्क: टेक दिग्गज कंपनी फेसबुक, रिलायंस जियो में 43,574 करोड़ रुपये का निवेश कर जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड में 9.99 प्रतिशत की हिस्सेदारी हासिल करेगा. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने बुधवार को बयान जारी कर कहा, “अल्पसंख्यक हिस्सेदारी के लिए किया गया यह निवेश दुनिया में कहीं भी एक प्रौद्योगिकी कंपनी द्वारा किए गए सबसे बड़े निवेशों में सबसे अधिक होने के साथ ही भारतीय तकनीकी क्षेत्र में भी सबसे बड़ा फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (एफडीआई) है.” Also Read - वैज्ञानिकों ने किया खुलासा, बताया आखिर किस तरह से जानवर से मनुष्य में पहुंचता है कोरोना वायरस

आरआईएल ने कहा, “फेसबुक के इस निवेश से जियो प्लैटफॉर्म्स की प्री मनी एंटरप्राइज वैल्यू 4.62 लाख करोड़ (65.95 अरब अमेरिकी डॉलर) है; कन्वर्जऩ रेट 70 प्रति डॉलर माना गया है. फेसबुक के निवेश के बाद उसे जियो प्लैटफॉर्म्स में 9.99 प्रतिशत की हिस्सेदारी (फुली डायल्यूटेड बेसिस पर) मिल जाएगी.” फेसबुक के साथ पार्टनरशिप पर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी ने कहा, “जियो और फेसबुक की इस पार्टनरशिप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया मिशन का सपना पूरा होने में मदद मिल सकती है.” Also Read - KXIP के सह-मालिक नेस वाडिया का बड़ा बयान, विदेशी खिलाड़ियों के बिना नहीं हो सकता IPL

उन्होंने आगे कहा, “दो लक्ष्य वाले इस मिशन का पहला लक्ष्य भारत के हर नागरिक के लिए सुकून और खुशियों से भरी जिंदगी यानि ईज ऑफ लिविंग और दूसरा, हर भारतीय के लिए व्यवसाय के अच्छे अवसर यानि ईज ऑफ बिजनेस है.” अंबानी ने कहा, “मुझे पूरा विश्वास है कि कोरोनावायरस (महामारी) के बाद थोड़े ही समय में भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ेगी. ये पार्टनरशिप उस बदलाव को लाने में खासी मदद कर सकती है.” फेसबुक के संस्थापक और सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने अपने निजी फेसबुक पेज पर लिखा, “मैं इस साझेदारी के लिए मुकेश अंबानी और पूरी जियो टीम को धन्यवाद देना चाहता हूं. हम शुरुआत करने के लिए उत्सुक हैं.” Also Read - Coronavirus: इन तीन भारतीय कंपनियों को नासा ने दिया वेंटिलेटर विनिर्माण का लाइसेंस