Flipkart PhonePe News: प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनी Flipkart ने गुरुवार को PhonePe को आंशिक रूप से अलग इकाई बनाने की घोषणा की है. हालांकि, PhonePe की ज्यादातर हिस्सेदारी Flipkart के पास ही रहेगी और दोनों कंपनियां एक-दूसरे के साथ पहले की तरह एक दूसरे का सहयोग करती रहेंगी. Also Read - सलीम लाला का एड्रेस हुआ वायरल, ' लोग ढूंढ़ रहे हैं पाशा भाई की दुकान', Flipkart ने भी लिए मजे

कंपनी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि बढ़त की गति और आने वाले समय में PhonePe की उल्लेखनीय ग्रोथ की संभावनाओं को देखते हुए Flipkart के बोर्ड ने तय किया है कि यह PhonePe को आंशिक रूप से अलग इकाई के रूप में स्थापित करने का उपयुक्त समय है क्योंकि इससे कंपनी अगले तीन से चार साल में अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अलग से पूंजी जुटा सकती है. Also Read - Flipkart Realme Days Sale 2021: रीयल मी के फोन पर मिल रहे बंपर डिस्काउंट, यहां देखें लिस्ट और दाम

PhonePe ने हाल में 70 करोड़ डॉलर (करीब 5,172 करोड़ रुपये) जुटाए हैं. इससे कंपनी का कुल वैल्यूएशन 5.5 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया है. कंपनी ने Walmart की अगुवाई वाली Flipkart के मौजूदा निवेशकों के जरिए ये फंड जुटाया है. Also Read - Flipkart Sale: 26 दिसंबर से शुरू हो रहा फ्लिपकार्ट सेल, iPhone और Realme के फोन पर पाएं 10 हजार तक की छूट

अक्टूबर, 2020 में PhonePe के रजिस्टर्ड यूजर्स की संख्या 25 करोड़ को पार कर गई. वहीं, मासिक रजिस्टर्ड यूजर्स की संख्या 10 करोड़ के पार रही.साथ ही डिजिटल ट्रांजैक्शन की संख्या एक अरब के आसपास रही.