Franklin Templeton Mutual Fund: फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड ने कहा है कि 23 अप्रैल, 2020 तक छह बंद ऋण योजनाओं ने यूनिट धारकों को 17,777.59 करोड़ रुपये लौटाए हैं, जो प्रबंधन के तहत संपत्ति (एयूएम) का 71 प्रतिशत है.Also Read - Mutual Fund Investment: एक साल में मिला 96 फीसदी मुनाफा, निवेशक हुए मालामाल, जानिए- कहां पर करें निवेश?

फंड हाउस ने एक बयान में कहा कि वितरण के लिए उपलब्ध नकदी 15 जून, 2021 तक 580 करोड़ रुपये थी. Also Read - Covid-19 Emergency Fund: इमर्जेंसी में नहीं लेना चाहते हैं उधार, तो कैसे करें पैसे का प्रबंध? जानें- यहां

कंपनी ने कहा फ्रैंकलिन टेम्पलटन के ट्रस्टी ने अप्रैल 2020 में हमारी छह ऋण योजनाओं को बंद करने का फैसला किया. यह कठिन निर्णय इसलिए लिया गया क्योंकि कोविड -19 के गंभीर प्रभाव के कारण बाजार तरल हो गए थे. इस निर्णय का एकमात्र उद्देश्य हमारे निवेशकों के लिए मूल्य की रक्षा करना था. Also Read - Where to invest post RBI's Repo Rate cut?

समापन के तहत छह योजनाओं में फ्रैंकलिन इंडिया अल्ट्रा शॉर्ट बॉन्ड फंड, फ्रैंकलिन इंडिया लो ड्यूरेशन फंड, शॉर्ट टर्म इनकम प्लान, इनकम अपॉर्चुनिटीज फंड, क्रेडिट रिस्क फंड और डायनेमिक एक्रुअल फंड शामिल हैं.

7 जून से शुरू होने वाले सप्ताह के दौरान फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की छह बंद योजनाओं के यूनिटधारकों को 3,205.25 करोड़ रुपये मिलेंगे.

इससे पहले फंड हाउस ने तीन चरणों में संबंधित निवेशकों के बीच 14,572.34 करोड़ रुपये बांटे थे.