नई दिल्लीः ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पीएलसी (जीएसके) ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने भारत की प्रमुख एफएमसीजी कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर में 5.7 प्रतिशत हिस्सेदारी लगभग 25,480 करोड़ रुपये में बेच दी है. Also Read - अगले 5 सालों में पतंजलि का कारोबार 50 लाख से 1 लाख करोड़ तक पहुंच सकता है: रामदेव

कंपनी को हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड के साथ अपनी अनुषंगी ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन कंज्यूमर हेल्थकेयर लिमिटेड (जीएसके इंडिया) के विलय की योजना के हिस्से के रूप में ये शेयर प्राप्त हुए थे.

जीएसके ने एक बयान में कहा, “जीएसके अपनी सहायक कंपनियों ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन प्रा. लिमिटेड और हॉर्लिक्स लिमिटेड के माध्यम से एचयूएल में 13.37 करोड़ साधारण शेयरों को 1,905 रुपये प्रति शेयर की दर से बेचने पर सहमत हुई है. इस सौदे से कंपनी को लगभग 254.8 अरब रुपये की प्राप्ति हुई है.’’

उन्होंने कहा, “इस सौदे के पूरा होने के बाद जीएसके के पास एचयूएल में कोई हिस्सेदारी नहीं रह गई.’’

जीएसके ने एक अप्रैल 2020 को भारत में अपने लोकप्रिय हेल्थकेयर ड्रिंक ब्रांड हॉर्लिक्स और अन्य उपभोक्ता हेल्थकेयर पोषण उत्पादों को हिंदुस्तान यूनिलीवर को बेचने की घोषणा की थी.

बीएसई में हिंदुस्तान यूनिलीवर का शेयर 0.86 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,992.50 रुपये पर बंद हुआ.