नई दिल्ली: जापान की वाहन कंपनी सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन की अगले महीने से भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) का सड़कों पर परीक्षण शुरू करने की योजना है. कंपनी के चेयरमैन ओसामु सुजुकी ने शुक्रवार को कहा कि 2020 में इलेक्ट्रिक वाहन पेश करने से पहले यह कदम उठाया जा रहा है. बता दें कि सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन की भारत की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी में 56 प्रतिशत हिस्सेदारी है.

सुजुकी ने कहा कि कंपनी ने टोयोटा मोटर कारपोरेशन के साथ मिलकर 2020 के आसपास भारत में इलेक्ट्रिक वाहन पेश करने का फैसला किया है. कंपनी की अपने गुजरात कारखाने में 2020 में लिथियम आयन बैटरी का उत्पादन शुरू करने की योजना है.

‘मोबिलिटी’ पर वैश्विक शिखर सम्मेलन में ओसामु सुजुकी ने कहा, ”मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी है कि हम 50 ईवी वाहनों के नमूनों के बेड़े का परीक्षण अगले महीने से शुरू करेंगे. इसका उद्देश्य भारतीय माहौल और यातायात स्थिति के अनुरूप भारतीय ग्राहकों के लिए वाहन तैयार करना है.”

सुजुकी ने कहा कि देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की पैठ बढ़ाने के लिए यह साफ है कि यह पर्याप्त चार्जिंग बुनियादी ढांचा विकास किए बिना नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा, ”हम इस संदर्भ में भारत सरकार की तरफ से अहम भूमिका निभाए जाने की उम्मीद कर रहे हैं.”

महिंद्रा एंड महिंद्रा के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने इसी कार्यक्रम में एक स्वायत्त संस्थान द्वारा संचालित सार्वजनिक-निजी भागीदारी के तहत ‘मल्टी-मॉडल मोबिलिटी’ का एक व्यापक डिजिटल प्लेटफार्म वाला सार्वभौमिक एप्लीकेशन बनाने का सुझाव दिया.

टोयोटा मोटर कॉरपोरेशन के सीईओ ताकेशी यूचियामादा ने कहा कि कंपनी भारत में अपने वाहनों के बिजली से चलाने की दिशा में प्रयास करेगी. इसके लिए कंपनी देश में इलेक्ट्रिक वाहन पेश करने को लेकर सुजुकी के साथ काम कर रही है.

टाटा मोटर्स के प्रबंध निदेशक गुंएटेर बुट्सचेक ने कहा कि कंपनी देश की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपनी क्षमता का उपयोग जारी रखेगी. एसएआईसी के अध्यक्ष चेन झिक्सिन ने कहा कि कंपनी अपनी इकाई एमजी मोटर इंडिया के जरिए बिजली से चलने वाले नए वाहन लाएगी. कंपनी ने भारत में 2020 तक 50 करोड़ डॉलर के निवेश की घोषणा की है.

फोर्ड ग्लोबल के उपाध्यक्ष (मोबिलिटी एंड ग्रोथ) के उपाध्यक्ष ब्रेट व्हीटले ने कहा कि वैश्विक स्तर पर कंपनी हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक वाहनों पर आक्रमक रूप से काम कर रही है और उसकी भारत में ऐसे वाहनों को पेश करने की योजना विचाराधीन है. हुंदै के उपाध्यक्ष चुंग यूसन ने कहा कि कंपनी भारत में हरित प्रौद्योगिकी वाले वाहन पेश करने पर गौर कर रही है.