नई दिल्ली: देश का सोना आयात वित्त वर्ष 2017-18 में 22.31 प्रतिशत बढ़कर 33.65 अरब डॉलर हो गया है. वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों से यह जानकारी हुई. इसके पिछले वित्त वर्ष में सोना आयात 27.51 अरब डॉलर था. वहीं , 2015-16 में देश ने 31.7 अरब डॉलर का सोना आयात किया था. बता दें कि सोना आयात में वृद्धि से देश का व्यापार घाटा भी बढ़ा है. पिछले वित्त वर्ष में व्यापार घाटा बढ़कर 157 अरब डॉलर हो गया. यह इसके पिछले वित्त वर्ष की तुलना में करीब 45 प्रतिशत अधिक है.

इस दौरान देश में चालू खाते का घाटा (कैड) वित्त वर्ष 2017-18 में उछलकर 48.7 अरब डॉलर यानी सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) क 1.9 प्रतिशत तक पहुंच गया. इससे पिछले वित्त वर्ष कैड 14.4 अरब डॉलर (जीडीपी का 0.6 प्रतिशत) था. कैड एक अवधि विशेष में विदेशी मुद्रा की प्राप्ति और खर्च के बीच का अंतर है. हालांकि, सोने के आयात में इस वर्ष जनवरी से गिरावट जारी है.

– भारत सोने का सबसे ज्यादा आयात करने वाला देश है
– भारत हर साल 700-800 टन सोने का आयात करता है
– कीमती धातु के आयात का व्यापार घाटे और कैड पर नकारात्मक असर कम करने के लिए सरकार सोने के आयात में कटौती करने के लिए कुछ कदम उठाए
– इन कदमों के सकरात्मक नतीजे निकले और अप्रैल – मई 2018 के दौरान सोना आयात 31.25 प्रतिशत गिरकर 6.05 अरब डॉलर रहा
– वित्त वर्ष 2017-18 में रत्न एवं आभूषण निर्यात गिरकर 41.5 अरब डॉलर रहा, जो कि इसके पिछले वित्त वर्ष में 43.4 अरब डॉलर था

(इनपुट- एजेंसी)