Gold Price Today 28 August 2020: कोरोना काल में जहां निवेशकों को सोने पर भारी मुनाफा हुआ है वहीं दूसरी तरफ इसके दाम में भी लगातार उतार चढ़ाव बना हुआ है. जहां एक दिन दाम में गिरावट दर्ज होती है तो वहीं दूसरे दिन भारी उछाल आ जाती है. बदलते भाव के चलते नए निवेशक और खरीदार ऐसी स्थिति में बने हुए हैं जहां यह समझ पाना मुश्किल हो रहा है कि आखिर सोने (Gold Price Today) की खरीदारी का सही वक्त क्या है. गुरुवार को भी सोने के दाम (Gold Price Latest News) में काफी बदलाव हुए और बाजार बंद होने तक सोने के दाम में उछाल दर्ज की गई. Also Read - LIVE IPL SCORE, RCB vs MI: दिल्‍ली से हार के बाद आज विराट के सामने रोहित की चुनौती, 7 बजे होगा टॉस

Gold/Silver Latest News Update Today Also Read - लड़ाई...मारपीट...पुलिस...फिर सुलह के बाद पूनम पांडे ने कहा- 'सैम मुझे बेरहमी से मारता है, मेरी बोल्ड वीडियो...

स्थानीय सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोना 743 रुपये की जोरदार तेजी के साथ 52,508 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया. जबकि भारी मांग के कारण चांदी 3,615 रुपये का उछाल दर्शाती बंद हुई. एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी. Also Read - Ujjwala Yojana Last Date: मुफ्त में गैस कनेक्शन लेने का आखिरी मौका! 30 सितंबर से पहले ऐसे करें अप्लाई...

चांदी की कीमत 3,615 रुपये के उछाल के साथ 68,492 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुई जो विगत कारोबारी सत्र में 64,877 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुई थी. पिछले कारोबारी सत्र में सोना 51,765 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था.

अगर एक दिन पहले के भाव पर नजर डालें तो बुधवार को सोना 210 रुपये की गिरावट के साथ 51,963 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया. एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी. पिछले कारोबारी सत्र में सोना 52,173 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था. चांदी भी 1,077 रुपये की गिरावट के साथ 65,178 रुपये प्रति किलोग्राम रह गयी. पिछले कारोबारी सत्र में चांदी 66,255 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी.

अंतरराष्ट्रटीय बाजार में सोने का भाव गिरावट के साथ 1,946 डॉलर प्रति औंस बोला जा रहा था जबकि चांदी का भाव 27.38 डॉलर प्रति औंस पर अपरिवर्तित रहा. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ‘‘आर्थिक वृद्धि को लेकर उम्मीदों के बीच सोने की कीमतों पर दबाव रहा….’’

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के उपाध्यक्ष (जिंस अनुसंधान) नवनीत दमानी ने कहा कि ‘डॉलर के कमजोर होने की वजह से पिछले सत्र में लगभग एक प्रतिशत बढ़ने के बाद सोने की कीमतों में स्थिरता रही जहां निवेशकों को दिन के उत्तरार्द्ध में आने वाले अमेरिकी फेडरल के चेयरमैन जेरोम पॉवेल के भाषण का इंतजार है.’’