नई दिल्ली: बाजार में मांग व अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक कारकों के चलते सोने की कीमतों में लगातार पांचवें सप्ताह तेजी जारी रही. स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की सतत त्योहारी और शादी विवाह सीजन के चलते मांग बढ़ने से बीते सप्ताह दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना करीब छह वर्ष के उच्चतम स्तर 32,625 रुपये तक चढ़ने के बाद अंत में 32,550 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ. दूसरी ओर छिटपुट लिवाली और बिकवाली के बीच चांदी की कीमतें सप्ताहांत में 39,600 रुपये प्रति किलो पर लगभग अपरिवर्तित रुख के साथ बंद हुईं.

लगातार 11वें दिन घटे तेल के दाम, दिल्ली में पेट्रोल 40 और डीजल 33 पैसे सस्ता

डॉलर के कमजोर होना भी है वजह
बाजार सूत्रों ने कहा कि डॉलर के कमजोर होने से विदेशों में सोना करीब तीन माह के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा और विदेशी बाजारों में मजबूती का रुख कायम हो गया. इसके अलावा शेयर बाजार की गिरावट के कारण कारोबारी धारणा में तेजी आई. इसके अलावा रुपये के कमजोर होने से आयात महंगा हो जाने से भी सोने की तेजी को बल मिला. शेयर बाजार की गिरावट को देखते हुए निवेशकों के निवेश का प्रवाह सर्राफा बाजार की ओर होने से भी सोने को करीब छह साल के उच्च स्तर को छूने में मदद मिली.

वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोना पिछले सप्ताहांत के 1,227.50 डॉलर के मुकाबले सप्ताहांत में 1,233.80 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ जबकि चांदी की कीमत भी पहले के 14.68 डॉलर के मुकाबले तेजी के साथ 14.76 डॉलर प्रति औंस हो गई. राष्ट्रीय राजधानी में आभूषण कारोबारियों की कमजोर मांग की वजह से 99.9 और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की क्रमश: 32,220 रुपये और 32,070 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कमजोर शुरूआत हुई.

त्योहारी सीजन ने भी किया इजाफा
बाद में त्योहारी और शादी विवाह की मांग के कारण ये कीमतें करीब छह वर्ष के उच्चतम स्तर क्रमश: 32,625 रुपये और 32,475 रुपये प्रति 10 ग्राम तक चढ़ गईं. लेकिन सप्ताहांत में ऊंचे स्तर पर आभूषण विक्रेताओं और फुटकर कारोबारियों की मांग में आई भारी गिरावट से ये कीमतें क्रमश: 280 – 280 रुपये की तेजी दर्शाती क्रमश: 32,550 रुपये और 32,400 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई. ये कीमतें पिछले सप्ताहांत क्रमश: 32,270 रुपये और 32,120 रुपये प्रति 10 ग्राम थीं.

सर्विस के मामले में कस्टमर सैटिस्फैक्शन में हुंडई टॉप पर, टाटा नंबर 2, मारुति 8वें पायदान पर

हालांकि छिटपुट समर्थन मिलने से गिन्नी की कीमत एक सीमित दायरे में घट-बढ़ के बाद सप्ताहांत में 24,700 रुपये प्रति आठ ग्राम पर अपरिवर्तित रही. चांदी तैयार की कीमत 39,500 रुपये से 39,750 रुपये प्रति किलो के दायरे में घट बढ़ के बाद सप्ताहांत में 39,600 रुपये प्रति किलो पर अपरिवर्तित रुख दर्शाती बंद हुई लेकिन चांदी साप्ताहिक डिलिवरी की कीमत 85 रुपये की हानि के साथ सप्ताहांत में 38,710 रुपये प्रति किलो पर बंद हुई. चांदी सिक्कों की कीमत सप्ताहांत में लिवाल 75,000 रुपये और बिकवाल 76,000 रुपये प्रति सैकड़ा के पूर्वस्तर पर बंद हुई. (इनपुट भाषा)