नई दिल्लीः विदेशों में मजबूती के रुख के बीच स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की सतत लिवाली से दिल्ली सर्राफा बाजार में बुधवार को सोना 150 रुपये की तेजी के साथ 32,500 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया. हालांकि औद्योगिक इकाइयों के कम उठाव के कारण चांदी 20 रुपये की हानि के साथ 39,730 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई. बाजार सूत्रों ने कहा कि त्योहारों और शादी विवाह के मौसम की मांग को पूरा करने के लिए स्थानीय आभूषण विक्रेताओं ने सोने की लिवाली बढ़ा रखी थी. इसके अलावा विदेशों में मजबूती के रुख के संकेतों से भी पीली धातु को बल मिला और इसका भाव इस वर्ष के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया.

वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोना 0.11 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,232.20 डॉलर प्रति औंस हो गया. चांदी भी 0.17 प्रतिशत की तेजी के साथ 14.83 डॉलर प्रति औंस हो गई. राष्ट्रीय राजधानी में 99.9 और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की दर 150-150 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 32,500 रुपये और 32,350 रुपये प्रति दस ग्राम हो गयी. यह इस वर्ष का उच्चतम स्तर है. मंगलवार को सोने में 130 रुपये की तेजी आई थी.

इससे पूर्व इस वर्ष गत 15 मई को सोना 32,450 रुपये प्रति 10 ग्राम तक गया था. गिन्नी के भाव भी 100 रुपये की तेजी के साथ 24,800 रुपये प्रति आठ ग्राम हो गए. दूसरी ओर चांदी हाजिर 20 रुपये की हानि के साथ 39,730 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई साप्ताहिक डिलिवरी का भाव 50 रुपये की तेजी के साथ 39,060 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया. हालांकि चांदी सिक्का 1,000 रुपये की तेजी के साथ लिवाल 76,000 रुपये तथा बिकवाल 77,000 रुपये प्रति सैकड़ा पर बंद हुआ.