Gold-silver import: भारत ने वित्त वर्ष 22 के पहले तीन महीनों के दौरान साल-दर-साल आधार पर सोने के आयात (Gold Import) में कई गुना वृद्धि दर्ज की, जो लगभग 790 करोड़ डॉलर है. सोने के आयात में इस वृद्धि को पिछले साल की समान अवधि के दौरान देशव्यापी तालाबंदी और इस वित्तीय वर्ष में पुनर्जीवित उपभोक्ता मांग के कारण कम आयात के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है.Also Read - Gold-silver import in India: मई में भारत का सोने का आयात बढ़ा, चांदी के आयात में गिरावट

पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में सोने का आयात 68.783 करोड़ डॉलर रहा था. Also Read - Gold Import: मार्च में 160 टन सोने का हुआ आयात, जानें - क्या रही वजह?

वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, जुलाई में पीली धातु का आयात भी लगभग 60 प्रतिशत बढ़कर 96.987 करोड़ डॉलर हो गया. Also Read - Import Jumps: निर्यात मार्च में 60.29 प्रतिशत उछला, लेकिन 2020-21 में 7.26 प्रतिशत की गिरावट

हालांकि इस वित्त वर्ष में चांदी के आयात (Silver Import) में गिरावट आई है.

वित्त वर्ष 2022 पहले क्वाटर के दौरान, चांदी का आयात 3.939 करोड डॉलर है, जो वित्त वर्ष 2021 के अप्रैल-जून 57.511 करोड़ डॉलर मूल्य के आयात से 93.15 प्रतिशत कम है.

जून में 1.183 करोड़ डॉलर की चांदी का आयात किया गया, जबकि पिछले वित्त वर्ष के इसी महीने में 137.22 डॉलर मूल्य की चांदी का आयात किया गया था.

भारत, सोने का एक प्रमुख आयातक, रत्नों और आभूषणों का निर्यात करता है. अप्रैल-जून में 9.17 अरब डॉलर के रत्न और आभूषण निर्यात किए गए, जो साल-दर-साल आधार पर 244.29 प्रतिशत अधिक है.

(With IANS Inputs)