नई दिल्ली: एचडीएफसी म्यूचुअल फंड दो साल के अंतराल के बाद देश की सबसे बड़ी संपत्ति प्रबंधन कंपनी (एएमसी) बन गई है. एचडीएफसी म्यूचुअल फंड ने आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्यूचुअल फंड (एमएफ) को पीछे छोड़ दिया है. एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (एम्फी) के आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर अंत तक एचडीएफसी एमएफ के प्रबंधन के तहत 3.35 लाख करोड़ रुपए की परिसंपत्तियां थीं. वहीं, आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एमएफ के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियों (एयूएम) का आंकड़ा 3.08 लाख करोड़ रुपए था. Also Read - 26 जनवरी को परेड निकालेंगे प्रदर्शनकारी किसान, बोले- आंदोलन का समर्थन करने वालों के खिलाफ मामले दर्ज कर रही NIA

एचडीएफसी एमएफ के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां अक्टूबर से दिसंबर की अवधि के दौरान इससे पिछली तिमाही की तुलना में 9 प्रतिशत बढ़ीं. वहीं, इस दौरान आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एमएफ का एयूएम 0.6 प्रतिशत कम हुआ. Also Read - राम मंदिर के लिए अक्षय कुमार ने दिया चंदा, कहानी के जरिए कहा, 'अब योगदान की बारी हमारी है.'

एचडीएफसी एमएम अक्टूबर, 2011 से सबसे बड़ी संपत्ति प्रबंधक रही है. मार्च, 2016 में आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल एमएफ उसको पछाड़कर शीर्ष स्थान पर पहुंच गई थी. एसबीआई एमएफ 2.64 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े के साथ तीसरे, आदित्य बिड़ला (2.42 लाख करोड़ रुपए) के साथ चौथे और रिलायंस एमएफ 2.36 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े के साथ पांचवें स्थान पर है. Also Read - केवल कोविशिल्ड ही नहीं, कोरोना के खिलाफ चार और वैक्सीन बना रहा है सीरम इंस्टीट्यूट, चल रहा है ट्रायल

एम्फी के मुताबिक दिसंबर तिमाही अंत तक देश के म्यूचुअल फंड उद्योग के प्रबंधन के तहत कुल 23.61 लाख करोड़ रुपए की परिसंपत्तियां थीं.