Mother dairy: अगर आपने मथुरा के पेड़े का स्वाद लिया है और आपका मन करता है कि मथुरा के पेड़े मिल जाते तो खा लेता. लेकिन आपकी पहुंच से दूर हैं और आपका मन पेड़े खाने का हो रहा है तो अब आपको मथुरा या वृंदावन जाने की जरूरत नहीं होगी. यह अब मदर डेयरी के स्टोर में आपको मिल जाएगा.Also Read - Milk Price: मदर डेयरी का दूध 2 रुपए हुआ महंगा, दिल्ली-NCR में रविवार से लागू होंगी नई दरें

मदर डेयरी ने अपने मिठाइयों के पोर्टफोलियो का विस्तार किया है. उसने अगले दो से तीन साल में मिठाइयों के 100 करोड़ रुपये के कारोबार का लक्ष्य रखा है. Also Read - भारतीय रेलवे ने चलाई देश की पहली मिल्क एक्सप्रेस ट्रेन, दिल्ली में अब नहीं होगी दूध के लिए परेशानी

बता दें, मदर डेयरी दिल्ली-एनसीआर सहित कई बड़े शहरों में दूध की सप्लाई करती है. Also Read - दूध के दाम बढ़े, मदर डेयरी ने 3 रुपये, अमूल ने दो रुपये महंगा किया दूध

राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड की सहयोगी कंपनी मदर डेयरी फ्रूट एंड वेजिटेबल प्राइवेट लिमिटेड ने मिठाई के दो नए संस्करण मथुरा पेड़ा और मेवा आटा लड्डू पेश किए हैं. दिल्ली-एनसीआर में मदर डेयरी के 1,500 दूध के बूथ और 300 सफल दुकानें हैं. अभी इसे स्टोर में दूध से बनी छह मिठाइयां उपलब्ध हैं. इनमें मिल्क केक, ओरेंज मावा बर्फी, फ्रोजन रसमलाई, गुलाब जामुन और रसगुल्ला शामिल हैं.

मदर डेयरी का कहना है कि उसकी मिठाइयां सुरक्षा के मानकों के साथ तैयार की जाती हैं. इन्हें कांटेक्टलेस तरीके से पैक कर ग्राहकों तक पहुंचाया जाता है. मदर डेयरी के मिठाई उत्पाद उसके आउटलेट्स के अलावा अमेजन, मिल्क बास्केट और बिग बास्केट पर भी उपलब्ध होंगे. कंपनी ने मकर संक्रांति के अवसर पर एनडीडीबी की चेयरमैन वर्षा जोशी और मदर डेयरी के डिप्टी एमडी ओमवीर सिंह की उपस्थिति में अपने सफ़ल ब्रांड के तहत तीन पैक किए हुए खाद्य उत्पाद जमे हुए ड्रमस्टिक्स, फ्रोजन कट ओकरा (कटी भिंडी) और फ्रोजन हल्दी पेस्ट क्यूब्स भी लॉन्च किए.

[PTI Hindi]