ऑनलाइन बैंकिंग के जरिए बिल पेमेंट, पैसे को खाते से ट्रांसफर करना और भी अन्य कार्यों के लिए काफी सुविधानक होता है. हालांकि, इसमें काफी खतरा भी रहता है. फिजिंग, विशिंग, और स्किमिंग कुछ ऐसे टूल्स हैं जो फ्राड करने वाले लोग इस्तेमाल करते हैं. यहां पर हम आपको कुछ मूलभूत सिद्धांत बताने जा रहे हैं, जिससे आप किसी तरह के स्कैम से बच सकते हैं. Also Read - लॉकडाउन के कारण भारत के स्मार्टफोन बाजार में 15 से 20 प्रतिशत की गिरावट आएगी

ऑनलाइन बैंकिंग करते समय कभी वाई-फाई का इस्तेमाल न करें Also Read - Samsung Galaxy F-Series Price in India: इस दिन लॉन्च होगा एडवांस फीचर्स के साथ Samsung Galaxy का F-Series, जाने कितनी है कीमत

ऑनलाइन बैंकिंग ट्रांजैक्शन करते समय वाई-फाई का प्रयोग न करें. सामान्य तौर पर पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन के इस्तेमाल पर खतरा बना रहता है. यह असुरक्षित रहता है. हैकर्स इसका प्रयोग करते हैं. जिससे वे आपके बैंकिंग डिटेल्स को चुरा लेते हैं. Also Read - PNB खाताधारक ध्यान से पढ़ें, आज से 5 दिनों तक बंद रहेंगे सभी प्रकार के ट्रांजैक्शन, जानें क्या है कारण

पब्लिक चार्जिंग से कभी मोबाइल चार्ज न करें

साइबर क्राइम का शिकार न हों इसके लिए आपको कभी पब्लिक चार्जिंग का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. हर समय आपको अपना चार्जर साथ में रखना चाहिए.

गूगल पर कभी बैंकिंग केयर के नंबर को न खोजें

आपको गूगल ऐप से ऐप को डाउनलोड करना चाहिए. किसी अनजानी जगह से ऐप को डाउनलोड करने पर आपका डेटा असुरक्षित हो सकता है. हैकर्स आपका डेटा चुरा सकते हैं.

मेल पर भेजे गए किसी एसएमएस लिंक पर कभी क्लिक न करें

कभी किसी मेल में भेजे गए लिंक और स्मार्टफोन में भेजे गए एसएमएस पर क्लिक न करें. नहीं तो आपके डेटा चुराए जा सकते हैं. इस पर क्लिक करने से पहले यूआरएल को चेक करें.

बैंकिंग और केवाईसी से संबंधित सूचनाओं को सोशल मीडिया पर शेयर न करें

सोशल मीडिया पर कभी किसी तरह के केवाईसी विवरण को साझा नहीं करना चाहिए. इससे साइबर अपराधियों को आपके बारे में जानकारी मिल जाती है, जिससे वे आसानी आपके पास तक पहुंच सकते हैं. यहां तक कि सोशल मीडिया के जरिए किसी बैंक का पेमेंट न करें.

ऑनलाइन बैंकिंग के लिए पासवर्ड को काफी स्ट्रांग रखें

हर तीन-चार महीने में अपने बैंकिंग पासवर्ड को बदलते रहें. इससे आपका खाता सुरक्षित रहता है. इसमें आसानी से सेंध नहीं लग सकती है.

हर रोज प्रयोग किए जाने वाले फोन नंबरों को बैंक से न जोड़े

हर रोज प्रयोग किए जाने वाले फोन नंबर को बैंकिंग ट्रांजैक्शन के लिए इस्तेमाल न करें. इससे आपकी सुरक्षा में सेंध लग सकती है. इससे अनधिकृत ट्रांजैक्शन किया जा सकता है.

फोन के जरिए किसी के साथ साझा न करें बैंकिंग विवरण

स्कैम करने वाले लोग बैंक का प्रतिनिध बनकर आपसे आपका विवरण चुरा लेते हैं. इसलिए फोन पर किसी के साथ विवरण साझा न करें. यह बात हमेंशा याद रखें कि कोई भी बैंक कर्मचारी आपके विवरण के बारे में जानकारी नहीं मांगता है.

अपने स्मार्टफोन में किसी अनावश्यक ऐप को परमिशन न दें

किसी भी ऐप को अपने स्मार्टफोन में परमिशन न दें. इससे आपकी निजी जानकारी लीक होने का खतरा रहता है. जिसका प्रयोग हैकर्स कर सकते हैं.