Indian Railway/IRCTC: भारतीय रेलवे 1 जनवरी 2021 से रेल यात्रा में कुछ बदलाव करने जा रही है. यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने रेलवे की साइड लोअर बर्थ में बदलाव करने जा रही है. बता दें कि रेलवे के इस फैसले से उन यात्रियों का सफर आरामदायक हो जाएगा जो RAC टिकट पर कई बार यात्रा करते हैं. Also Read - Indian Railways: पीएम मोदी आज आठ ट्रेनों को दिखाएंगे हरी झंडी, जानें क्यों हो रही इनकी चर्चा

बता दें कि शान-ए-भोपाल एक्सप्रेस में Linke Hofmann Busch यानि LHB कोच लगाए जाएंगे. इन कोच की साइड लोअर बर्थ थोड़ी अलग तरीके की है. इसमें दो सीटों को जोड़कर बनाई गई गैप को खत्म कर दिया जाएगा और बर्थ के लिए अलग स्लैब की सुविधा दी जाएगी, जिसके बाद दोनों यात्रियों के सीट के बीच का गैप खत्म हो जाएगा. Also Read - Indian Railways Latest News: रेलवे का बड़ा फैसला, इन शहरों से चलाई जाएगी दो और विशेष ट्रेन, जानें फुल डिटेल्स

बता दें कि शान-ए-भोपाल एक्सप्रेस हबीबगंज रेलवे स्टेशन से हजरत निजामुद्दीन स्टेशन के बीच चलती है. इस ट्रेन में 45 कोच दिए गए हैं. जिसमें हर रैक में 22 कोच लगाए जाएंगे. ये कोच थोड़े एडवांस और सुविधाजनक होंगे, इससे यात्रियों का सफर और भी आरामदायक हो जाएगा. Also Read - IRCTC/Indian Railways: यात्रियों को नहीं रहना पड़ेगा भूखा, अब बुकिंग कर मंगाए खाना

बता दें कि भारतीय रेलवे में काफी सालों से ICF कोच का इस्तेमाल किया जा रहा, जिन्हें चेन्नई में तैयार किया जाता है. लेकिन अब इनमें बदलाव किया जा रहा है. बता दें कि धीरे-धीरे कर सभी ट्रेनों में इन्हीं कोच को लगाने की योजना है.