Indian Railways, IRCTC Good News :  भारतीय रेलवे की ऐतिहासिक 108 साल पुरानी ट्रेन, पंजाब मेल 255 दिनों के बाद 1 दिसंबर 2020 से एक बार फिर पटरियों पर वापस लौट आई है. देश के करीब सात राज्यों को जोड़ने वाली यह ट्रेन बीते 22 मार्च से रेल सेवाएं निलंबित किए जाने के दिन बंद थी. यह ट्रेन मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से 1 दिसंबर से फिर से शुरू हो गई है, जबकि पंजाब के फिरोजपुर कैंट जंक्शन से यह 3 दिसंबर से शुरू होगी. रेलवे की ओर से इस ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों के लिए टिकटों की बुकिंग चालू है.Also Read - Indian Railways: इन ट्रेनों में डी-रिजर्व द्वितीय श्रेणी के कोचों को 'अनारक्षित' कोच के तौर पर चलाएगी रेलवे, यहां देखें पूरी सूची

आम यात्रियों के अलावा सेना के जवानों और अधिकारियों को विशेष फायदा होगा Also Read - Indian Railways: रेलवे ने झारखंड, बिहार और बंगाल के बीच चलने वाली आठ जोड़ी ट्रेनों को स्थायी रूप से किया बंद

पंजाब में लंबे समय के बाद 1 दिसंबर से पंजाब मेल के शुरू होने के साथ ही अमृतसर से चलकर राजस्थान के अजमेर शरीफ जाने वाली साप्ताहिक ट्रेन अमृतसर-अजमेर एक्सप्रेस भी चलने जा रही है. देश के सबसे पुरानी ट्रेन पंजाब मेल के शुरू होने से आम यात्रियों के अलावा सेना के जवानों और अधिकारियों को विशेष फायदा होगा. पंजाब के फिरोजपुर से लेकर देश की औद्योगिक नगरी मुंबई तक के बीच सेना की कई छावनियां हैं. पंजाब मेल के शुरू होने से इन छावनियों में काम करने वाले सेना के जवान और अधिकारियों को आवागमन में काफी सहूलियत होगी. Also Read - Indian Railways: अब ट्रेन में फ्री कंबल नहीं मिलेगा? बेडरोल किट चाहिए, तो अब चुकाने होंगे 300 रुपये, जानिए

देश के सात राज्यों को जोड़ती है पंजाब मेल

फिलहाल, फिरोजपुर-दिल्ली रेलवे लाइन पर एक दिसंबर से चलने वाली पंजाब मेल पहली रेलगाड़ी होगी. भारतीय रेल की यह ट्रेन पंजाब के फिरोजपुर कैन्ट जंक्शन से शुरू होकर देश के सात राज्यों को आपस में जोड़ने का काम करती है.

पंजाब में फिरोजपुर कैंट जंक्शन, कोट कपुरा जंक्शन, गंग्सर जीतू, भटिंडा जंक्शन, हरियाणा के जींद जंक्शन, रोहतक जंक्शन, बहादुरगढ़, फरीदाबाद, दिल्ली के शकूरबस्ती, नई दिल्ली, उत्तर प्रदेश के मथुरा जंक्शन, आगरा कैन्ट, राजस्थान के धौलपुर, मध्य प्रदेश के मोरेना, ग्वालियर जंक्शन, दतिया, झांसी जंक्शन, ललितपुर, भोपाल जंक्शन, खंडवा जंक्शन और महाराष्ट्र भुसावल जंक्शन, जलगांव जंक्शन, नासिक रोड, कल्याण जंक्शन, दादर सेंट्रल, छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पहुंचती है.

108 साल पहले शुरू की गई थी पंजाब मेल

भारतीय रेलवे की इस ट्रेन की शुरुआत आज से करीब 108 साल पहले 1 जून 1912 से की गई थी. तब से लेकर लॉकडाउन के पहले तक यह बिना रुके सवारियों को ढो रही है. आरंभिक समय में यह बल्लार्ड पियर से पेशावर के बीच शुरू हुई थी. आजादी के बाद से अब तक फिरोजपुर कैंट रेलवे स्टेशन से मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनल के लिए चलाई जा रही है. अब यह ट्रेन पंजाब के फिरोजपुर मंडल रेलवे की पहली सबसे पुरानी ट्रेन बन गई है.