मुंबई: अंतर बैंकिंग मुद्रा बाजार में बुधवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया गिरकर 72.91 रुपये प्रति डॉलर के सर्वकालिक निम्न स्तर पर आ गया. कच्चे तेल के ऊंचे दाम और विदेशी पूंजी की निरंतर निकासी से रुपया शुरुआती कारोबार में 22 पैसे गिरा. Also Read - अब महिलाएं भी कर सकेंगी मुंबई लोकल से यात्रा, रेल मंत्रालय ने दी अनुमति; ये होगी टाइमिंग

Also Read - लाइनमैन का ये Video देखकर आनंद महिंद्रा बोले- बिजली की शिकायत करने पहले कई बार सोचूंगा

Indian Rupee falls to 72.88 versus the US dollar. pic.twitter.com/Xu0GGFiaJr Also Read - कंगना रनौत के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार ने दर्ज करवाई नई FIR, राज-द्रोह के केस में बहन रंगोली का भी नाम शामिल

मुद्रा डीलरों ने कहा कि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार मोर्चे पर तनाव बढ़ने की आशंका और कच्चे तेल के दाम में तेजी के बाद बैंकों और आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मांग आने से रुपये पर दबाव रहा. इसके अलावा निरंतर विदेशी पूंजी निकासी से भी घरेलू मुद्रा में दबाव देखा गया. मंगलवार के कारोबारी दिन में रुपया डालर के मुकाबले 24 पैसे टूटकर 72.69 रुपये प्रति डॉलर के निम्न स्तर पर बंद हुआ था.

रुपए की लगातार गिरावट पर वित्त मंत्री ने दिलाया भरोसा, डॉलर मजबूत हुआ है रुपया कमजोर नहीं हुआ

ब्रेंट कच्चा तेल में 2 प्रतिशत से अधिक की तेजी

ब्रेंट कच्चा तेल 0.35 प्रतिशत बढ़कर 79.34 रुपये प्रति बैरल हो गया. मंगलवार को इसमें 2 प्रतिशत से अधिक की तेजी रही. इस बीच, बंबई शेयर बाजार सेंसेक्स सूचकांक आज शुरुआती कारोबार में 133.29 अंक यानी 0.35 प्रतिशत चढ़कर 37,546.42 अंक पर पहुंच गया.