हाल ही में सरकार ने इंस्टैंट पैन (Instant e-PAN) सेवा लॉन्च की है. इससे अब ई-पैन बनवाना बेहद आसान हो गया है. यह ई-पैन बनवाने की सेवा निःशुल्क है. यह ई-पैन, कार्ड वाले पैन इतना ही मान्य है. ई-पैन को बनवाने के लिए आपको केवल आधार कार्ड देना होगा. लेकिन ऐसी पांच स्थितियां है जब आप आधार कार्ड होने के बाद ई-पैन के लिए इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं. Also Read - UIDAI/Aadhaar Card Address Update New Rules: UIDAI ने किरायदारों को दी बड़ी सहूलियत, अब आधार कार्ड में बदलवा सकेंगे एड्रेस

ई-पैन या इंस्टैंट पैन बनवाने के लिए जरूरी शर्तें (Instant PAN card application eligibility criteria) Also Read - मोबाइल नंबर बदल गया, इस प्रक्रिया से फोन नंबर को करें आधार से लिंक, बस भरना होगा एक फॉर्म

1. जिन लोगों के पास पहले से पैन कार्ड है तो वे ई-पैन के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं. अगर कोई व्यक्ति दो पैन कार्ड रखते हुए पाया जाता है तो उसपर आयकर कानून के तहत 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है. Also Read - Aadhar Card से अपने नए मोबाइल नंबर को ऐसे करें लिंक, खर्च होंगे सिर्फ 25 रुपये

2. ई-पैन के लिए आवेदन करने के लिए वैध आधार कार्ड होना जरूरी है. ऐसा इसलिए है क्योंकि आयकर विभाग आपके बारे में सारी जानकारी आधार डाटाबेस से लेता है. इसी से वह आपका KYC पूरा करता है. आवेदन प्रक्रिया के दौरान आपको कोई फॉर्म नहीं भरना होता और न ही आपको कोई दस्तावेज देना होता है.

3. अब केवल आधार कार्ड रखना पर्याप्त नहीं है. बल्कि आपका 12 अंकों वाले आधार के साथ मोबाइल नंबर भी लिंक होना चाहिए. आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर आयकर विभाग वन टाइम पासवर्ड यानी ओटीपी भेजता है. इस ओटीपी के बगैर आपका केवाईसी पूरा नहीं होता.

4. ई-पैन के लिए आवेदन करने से पहले आप अपने आधार कार्ड में यह चेक करें कि आपकी जन्मतिथि DD-MM-YYYY यानि तारिख, महीना और साल के फॉर्मेट में है या नहीं. कुछ पुराने आधार कार्ड में केवल जन्म का वर्ष दर्ज रहता है. उसमें पूरी जन्मतिथि नहीं होती. अगर आपको आधार कार्ड में जन्मतिथि प्रिंट करवानी है तो आप यह काम UIDAI की वेबसाइट पर जाकर कर सकते हैं.

5. इंस्टैंट ई-पैन की सेवा केवल 18 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए है. अगर आप नाबालिग हैं तो आप ई-पैन कार्ड के लिए आवेदन नहीं कर सकते. यह सेवा केवल व्यक्तिगत है. यानी आप केवल अपना निजी पैन कार्ड बनवा सकते हैं. आप किसी कंपनी, संयुक्त हिंदू परिवार, साझेदारी या संस्था का ई-पैन नहीं बनवा सकते.