Union Budget 2019: कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल आज बजट 2019 पेश करने वाले हैं. इसके लिए पीयूष गोयल संसद पहुंच गए हैं और जल्द ही बजट पेश करने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. आज पेश होने वाला बजट पूर्ण बजट नहीं, बल्कि अंतरिम बजट है. इसे वोट ऑन अकाउंट भी कहा जाता है. अगर आप यह नहीं जानते हैं कि अंतरिम बजट क्या होता है, तो हम यहां आपको इसे समझने में मदद कर रहे हैं.

अंतरिम बजट से पहले शेयर बाजार में तेजी, सेंसेक्स 181 अंक चढ़ा

अंतरिम बजट और वोट ऑन एकाउंट: इसे आसान भाषा में समझें तो इसे मिनी बजट कहा जा सकता है. क्योंकि जिस साल चुनाव होता है, उस साल सरकार अंतरिम बजट पेश करती है. इसमें सरकार को चुनाव के नतीजे आने तक होने वाले खर्च को मंजूरी दी जाती है. इसलिए इसे वोट ऑन अकाउंट कहा जाता है. इसके बाद जब नई सरकार बनती है, वह पूर्ण बजट पेश करती है.

ऐसा पहले भी देखा जा चुका है. साल 2014 में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने अंतरिम बजट पेश किया था. लेकिन चुनाव के बाद सत्ता में भाजपा की सरकार आ गई. भाजपा की सरकार ने अंतरिम बजट में कई बदलाव करने के बाद जुलाई में पूर्ण बजट पेश किया था. पहले बजट से पहले रेल बजट पेश करने की परंपरा थी, जिसे खत्म कर दिया गया है.