IRCTC/Indian Railways News: देश में जारी कोरोना संकट और ट्रेनों की भीड़ को देखते हुए रेलवे (Indian Railways) ने दशहारा, दीपावली और छठ के अवसर पर यात्रियों को उनके उनके घरों तक पहुंचाने के लिए कमर कस ली है. कोरोना संकट के कारण देश में रेग्युलर ट्रेनों (IRCTC) को बंद रखा गया है. हालांकि इस दौरान स्पेशल ट्रेनें (Special Trains) पटरी पर दौड़ रही हैं. भारतीय रेलवे (IRCTC/Indian Railways) ने मंगलवार को ऐलान किया कि फेस्टिव सीजन (Festival Special Trains) में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए 20 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 392 त्योहार विशेष ट्रेनों का संचालन किया जाएगा. Also Read - IRCTC/Indian Railways: त्योहारी सीजन में बढ़ेगा रेल किराया? जानें रेलवे ने बयान जारी कर क्या कहा...

रेलवे की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि रेलवे को त्योहारी मौसम (Festival Trains) के मद्देनजर यात्रियों की भीड़ बढ़ने का अंदेशा है, जिसे देखते हुए यह फैसला किया गया है. ये ट्रेनें बिहार, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल समेत अन्य जगहों के लिए चलाई जाएंगी.

क्या होगा किराया
रेलवे ने यह भी कहा कि इन रेल गाड़ियों पर विशेष ट्रेनों वाला किराया ही लागू होगा. यानी इनका किराया मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों की तुलना में 10-30 प्रतिशत तक अधिक होगा, जो यात्रा की श्रेणी पर निर्भर करेगा. अधिकारियों ने बताया कि ये त्योहार विशेष ट्रेनें 30 नवंबर तक ही चलेंगी.

अब तक 600 से अधिक ट्रेन पटरी पर
अब तक रेलवे ने 666 मेल/एक्सप्रेस रेल गाड़ियों को सेवा में लगाया है, जो समूचे देश में अब नियमित तौर पर चल रही हैं. इसके अलावा मुंबई में कुछ उपनगरीय सेवा के साथ-साथ कोलकाता मेट्रो की कुछ सेवा भी बहाल की गई है. मंगलवार को जारी आदेश में रेलवे बोर्ड ने कहा कि ये त्योहार विशेष ट्रेनें 55 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चलेंगी.

बता दें कि रेलवे ने कोरोना वायरस महामारी के कारण अपनी नियमित सेवा को स्थगित कर दिया है और मांग तथा जरूरत के हिसाब से रेल गाड़ियों का संचालन कर रहा है. इन ट्रेनों में कब से टिकट बुक किये जाएंगे इसकी सूचना जल्द ही दी जाएगी.