बीमा नियामक प्राधिकरण (IRDA) के एक कार्य समूह ने मोटर बीमा प्रीमियम में स्वयं को क्षति (Own Damage)पर थर्ड पार्टी के नुकसान की भरपाई और अन्य तरह के बीमा प्रीमियम के साथ ‘यातायात उल्लंघन प्रीमियम’ की शुरुआत करने की सिफारिश की है. यह प्रीमियम ओन डैमेज और थर्ड पार्टी के नुकसान के बीमा के साथ होगा. नियामक की ओर से गठित समूह ने मोटर बीमा में इसके लिए एक पांचवीं धारा जोड़ने का सुझाव भी दिया है.Also Read - बीमा नियामक का ऐलान, COVID-19 को कवर करने वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसीज में कवर होगा ओमिक्रॉन

यह प्रीमियम मोटर इंश्‍योरेंस के ओन डैमेज, थर्ड पार्टी और अनिवार्य व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा प्रीमियम के अलावा शामिल किए जाने का सुझाव है. आईआरडीए ने जारी मसौदे में इन सिफारिशों पर संबंधित पक्षों से एक फरवरी 2021 तक जरूरी सुझाव मांगे हैं. प्रस्ताव के अनुसार, यह प्रीमियम वाहन के भविष्य से संबंधित होगा. किसी नए वाहन के संबंध में यह शून्य होगा. इस प्रीमियम का निर्धारण शराब पीकर गाड़ी चलाने से लेकर गलत जगह पार्किंग करने जैसे अलग-अलग गंभीरता वाले उल्लंघनों से तय होगा. Also Read - Covid Cashless Insurance: IRDAI बीमाकर्ताओं को दिया आदेश, कहा- 1 घंटे में करें दावों का निपटान

यातायात नियमों के उल्लंघन पर कटे चालान का आंकड़ा बीमा साधारण बीमा कंपनियों को एनआईसी (National Informatics Center) से प्राप्त होगा. Also Read - COVID-19: IRDAI ने कहा, कैश और कैशलेस बीमा योजनाओं में कोई भेदभाव न करें अस्पताल

रिपोर्ट के अनुसार, कोई भी मोटर इंश्‍योरेंस खरीदार जब किसी तरह का मोटर इंश्‍योरेंस लेने के लिए जनरल इंश्‍योरेंस कंपनी के पास पहुंचेगा तो ओन डैमेज या थर्ड पार्टी या पैकेज के साथ ट्रैफिक उल्‍लंघन पॉइंट का आकलन किया जाएगा. इसी के अनुसार प्रीमियम का भुगतान करना होगा. जाहिर है जब कोई नया वाहन खरीदेगा तो उसकी ट्रैफिक वॉयलेशन हिस्‍ट्री साफ होगी. इस तरह उसमें कोई ट्रैफिक वॉयलेशन प्रीमियम नहीं देना पड़ेगा. गाड़ी के ट्रांसफर के मामले में भी ट्रैफिक वॉयलेशन प्रीमियम शून्‍य से शुरू होगा.

(With Agency Inputs)