Top Recommended Stories

पिछले साल भारत की डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री की खुदरा बिक्री 3.25 अरब डॉलर रही, दुनिया में 12वां स्थान

Direct Selling Industry: एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पिछले साल भारत की डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री की खुदरा बिक्री 3.25 अरब डॉलर रिकॉर्ड की गई. पूरी दुनिया में भारत का 12वां स्थान रहा. रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका का डायरेक्ट सेलिंग उद्योग 42.67 अरब डॉलर की खुदरा बिक्री के साथ शीर्ष पर रहा है. कुल बिक्री में उसका हिस्सा 23 प्रतिशत है.

Updated: June 30, 2022 8:26 AM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Manoj Yadav

Atomy India
(File Photo)

ग्राहकों को सीधे सामान की बिक्री करने वाले ‘डायरेक्ट सेलिंग’ (Direct Selling) उद्योग ने 2021 में 3.25 अरब डॉलर (करीब 27,650 करोड़ रुपये) की खुदरा बिक्री दर्ज करते हुए वैश्विक रैंकिंग में अपना 12वां स्थान बरकरार रखा है.

Also Read:

वाशिंगटन स्थित वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन (WFDSA) द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 2021 में भारतीय डायरेक्ट सेलिंग उद्योग में 7.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई. 2018 से 2021 तक पिछले तीन वर्षों में सालाना आधार पर यह उद्योग 15.7 प्रतिशत की दर से बढ़ा है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि एशिया प्रशांत क्षेत्र में भारत के डायरेक्ट सेलिंग उद्योग को छठा स्थान हासिल हुआ है. भारतीय डायरेक्ट सेलिंग उद्योग की अगुवाई एमवे, एवन, ओरिफ्लेम, मोदीकेयर, हर्बलाइफ आदि कंपनियां कर रही हैं.

रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका का डायरेक्ट सेलिंग उद्योग 42.67 अरब डॉलर की खुदरा बिक्री के साथ शीर्ष पर रहा है. कुल बिक्री में उसका हिस्सा 23 प्रतिशत है.

अमेरिका के बाद दक्षिण कोरिया और जर्मनी का स्थान रहा.

रिपोर्ट के मुताबिक, 2021 में वैश्विक स्तर पर डायरेक्ट सेलिंग उद्योग की खुदरा बिक्री का आंकड़ा 186.10 अरब डॉलर रहा है.

इंडियन डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएशन (IDSA) के चेयरमैन रजत बनर्जी ने रिपोर्ट पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘‘कोविड -19 महामारी से उत्पन्न अत्यधिक प्रतिकूल कारोबारी माहौल के बावजूद भारतीय डायरेक्ट सेलिंग उद्योग ने जुझारू क्षमता का प्रदर्शन किया है.

(Input-Bhasha)

बिजनेस की खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर क्लि करें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें Business Hindi की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

By clicking “Accept All Cookies”, you agree to the storing of cookies on your device to enhance site navigation, analyze site usage, and assist in our marketing efforts Cookies Policy.