बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (Bombay Stock Exchange) पर लिस्टेड सभी कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 191 लाख करोड़ रुपये से अधिक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है. सोमवार को नौवां कारोबारी सत्र ऐसा था जिसमें लगातार बढ़त दर्ज की गई. इस दौरान बीएसई के संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में 2,622.84 अंक यानी 5.75 फीसदी का उछाल दर्ज हुआ, जिससे सेंसेक्स ने पहली बार 48,000 के स्तर को पार कर गया.Also Read - Stock Market LIVE Updates: 820 अंकों से ज्यादा गिरा सेंसेक्स, फिलहाल 58, 000 के नीचे कर रहा है कारोबार

पिछले नौ कारोबारी सत्रों में बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में 12,89,863.39 करोड़ रुपये की जोरदार उछाल दर्ज की गई, जिससे यह रिकॉर्ड 1,91,69,186.44 करोड़ रुपये (2.6 ट्रिलियन डॉलर) पर जा पहुंचा. Also Read - BSE Sensex News Update: सेंसेक्स 450 अंक से अधिक चढ़ा, निफ्टी 17,500 के ऊपर बंद; रिलायंस ने किया रैली का नेतृत्व

बता दें, देश में दो कोविड-19 वैक्सीन को मंजूरी मिलने से घरेलू बाजार में काफी सकारात्मक रुख देखने को मिला है. साथ ही सकारात्मक ग्लोबल संकेतों से भी घरेलू बाजार में तेजी बनी हुई है. Also Read - Share Market Update: सप्ताह के पहले दिन ही शेयर बाजार हुआ धड़ाम, सेंसेक्स 1200, निफ्टी 17,400 के नीचे आया

मंगलवार को शुरुआती कारोबार में, बीएसई पर सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,91,25,467.48 करोड़ रुपये था. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) 12,49,218.49 करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण के साथ देश की सबसे मूल्यवान कंपनी है. इसके बाद दूसरे नंबर पर टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) है, जिसका बाजार पूंजीकरण 11,50,105.91 करोड़ रुपये है।

बीता साल 2020 सेंसेक्स के लिए एक ऐतिहासिक साल रहा है. इस दौरान सेंसेक्स में 15.7 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई. पिछले साल सेंसेक्स में भारी बिकवाली और खरीदारी दोनों ही देखी गई. इक्विटी इन्वेस्टर्स ने पिछले साल कोरोनावायरस महामारी के अर्थव्यवस्था पर प्रभाव के बावजूद भारी रिटर्न मिलने से अपनी संपत्ति में 32.49 लाख करोड़ रुपये की बढ़त दर्ज किए.

बीते हफ्ते बाजार मूल्यांकन के हिसाब से रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) टॉप पर रही. इसके बाद टीसीएस (TCS), एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank), एचयूएल (HUL), इन्फोसिस (Infosys), एचडीएफसी (HDFC), कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank), आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank), बजाज फाइनेंस (Bajaj Finance) और भारती एयरटेल (Bharti Airtel) का स्थान रहा.